केंद्र सरकार ने मांग से ज्यादा की आपूर्ति फिर भी बिहार के किसानों से दूर है यूरिया

कृषि विभाग और विभाग के मंत्री प्रेम कुमार भी खुद मानते हैं कि यूरिया की कालाबाजारी की शिकायत मिल रही है और विभाग ने इसकी रोकथाम के लिए उड़नदस्ता बनाया है .

Rupesh Kumar | News18 Bihar
Updated: August 29, 2018, 4:38 PM IST
केंद्र सरकार ने मांग से ज्यादा की आपूर्ति फिर भी बिहार के किसानों से दूर है यूरिया
सांकेतिक चित्र
Rupesh Kumar | News18 Bihar
Updated: August 29, 2018, 4:38 PM IST
प्रकृति की मार से उबरने के बाद बिहार के किसान कालाबाजारियों के चंगुल में कराह रहे हैं. धान की रोपनी के बाद अब यूरिया की जरुरत है लेकिन यूरिया के बाजार पर कालाबाजियों का कब्जा है. बिहार को जरुरत से ज्यादा यूरिया का आवंटन प्राप्त हो चुका है लेकिन किसान हैरान और परेशान हैं.

सुखाड़ के मुहाने से बिहार लौटा तो राज्य में 95 फीसदी धान की रोपनी हुई. लगभग ऐसी ही हालत मक्का और दलहन की भी है. अब प्रकृति की मार से तो किसान उबर गए लेकिन बाजार की मार से नहीं उबर पा रहे हैं. धान की रिकार्ड रोपनी के बाद अब उर्वरक की सख्त जरुरत है. भारत सरकार से जरुरत से ज्यादा मदद भी मिली और यूरिया का आवंटन प्राप्त हो चुका है लेकिन यूरिया का ये बाजार कालाबाजार के चंगुल में है.



कृषि विभाग और विभाग के मंत्री प्रेम कुमार भी खुद मानते हैं कि यूरिया की कालाबाजारी की शिकायत मिल रही है और विभाग ने इसकी रोकथाम के लिए उड़नदस्ता बनाया है .

यूरिया की उपलब्धता और कीमत

बिहार की जरुरत ---- 7 लाख 10 हजार मिट्रीक टन
भारत सरकार से आवंटन ---10 लाख 1 हजार 50 मिट्रीक टन
बिहार की आपूर्ति --------- 6 लाख 58 हजार 32 मिट्रीक टनसरकार ने यूरिया की कीमत भी निर्धारित कर दी है .
50 किलो का पैकेट-- 296 रुपये
45 किलो का पैकेट-- 266 रुपये

बिहार में यूरिया की बंपर उपलब्धता के बावजूद किसान यूरिया 400 से 500 रुपये में खरीदने को मजबूर हैं. कृषि विभाग आपात बैठक कर रहा है उड़नदस्ता बना रहा है. यूरिया की कीमत को लेकर जागरुकता अभियान चला रहा है. बिहार में उर्वरक की बिक्री निर्धारित दर पर पॉस मशीन के माध्यम से ही कर सकते हैं .

यूरिया का स्टॉक कृषि विभाग के वेबसाइट पर भी देखा जा सकता है. इस वेबसाइट पर किस विक्रेता के पास कितना यूरिया उपलब्ध है देखा जा सकता है लेकिन सारी बातें कालाबाजारियों के आगे बेकार साबित हो रही हैं.
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार