बिहार पुलिस की IPS विनय तिवारी को छोड़ने वाली गुजारिश को बीएमसी ने नकारा, DGP बोले- अब हम कोर्ट जाएंगे
Mumbai News in Hindi

बिहार पुलिस की IPS विनय तिवारी को छोड़ने वाली गुजारिश को बीएमसी ने नकारा, DGP बोले- अब हम कोर्ट जाएंगे
DGP-Gupteshwar-Pandey (फाइल फोटो)

बिहार के डीजीपी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि पटना IG ने BMC के चीफ़ को पत्र लिखकर IPSविनय तिवारी को कोरंटिन करने का विरोध करते हुए उनको मुक्त करने का अनुरोध किया था जिसको ठुकरा दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2020, 1:36 PM IST
  • Share this:
पटना. सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर मुंबई और बिहार पुलिस के बीच चल रहा विवाद फिलहाल कम होता नहीं दिख रहा है. अपने आईपीएस अधिकारी को क्वारेंटीन किये जाने के खिलाफ बिहार पुलिस के IG ने BMC के चीफ़ को पत्र लिखकर इसका विरोध जताया था और IPS विनय तिवारी को मुक्त करने का अनुरोध किया था लेकिन बीएमसी ने बिहार सरकार के इस अनुरोध को ठुकरा दिया गया है.BMC ने पत्र का जबाब भी पटना पुलिस को भेज दिया है.

इसकी जानकारी देते हुए बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने न केवल नाराजगी जताई बल्कि ये भी कहा कि बिहार पुलिस BMC के इस निर्णय के खिलाफ कोर्ट जाएगी. DGP ने कहा कि हमें आशंका है कि BMC हमारे SP के साथ कुछ भी कर सकता है. उन्होंने कहा कि हमने BMC से पत्राचार कर के अनुरोध किया था लेकिन BMC ने हमारे अनुरोध को नहीं माना. इसके बाद DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने इस मामले को लेकर ट्वीट भी किया.

बिहार के डीजीपी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि पटना IG ने BMC के चीफ़ को पत्र लिखकर IPSविनय तिवारी को कोरंटिन करने का विरोध करते हुए उनको मुक्त करने का अनुरोध किया था जिसको ठुकरा दिया गया है.BMC ने पत्र का जबाब भी पटना पुलिस को भेज दिया है.यानि हमारे SP विनय तिवारी अब 14 दिन तक वहीं क़ैद रहेंगे.BMCका यह फ़ैसला दुर्भाग्यपूर्ण!

  मालूम हो कि बिहार पुलिस की जांच के लिए मुंबई गई एक आईपीएस विनय तिवारी को मुंबई पहुंचते ही 14 दिनों के लिए क्वारंटीन कर दिया गया था जिसके बाद से मुंबई में पहले से मौजूद बिहार पुलिस की चार सदस्यीय टीम ने भी खुद को अंडरग्राउंड कर लिया है. बिहार और महाराष्ट्र पुलिस के बीच चल रही इस खींचातानी को लेकर बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी नाराजगी जताई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज