BMP Campus Double Murder: शादीशुदा थे दोनों, गुपचुप चल रहा था लव अफेयर, ड्यूटी पर ही मर्डर और सुसाइड
Patna News in Hindi

BMP Campus Double Murder: शादीशुदा थे दोनों, गुपचुप चल रहा था लव अफेयर, ड्यूटी पर ही मर्डर और सुसाइड
बिहार के बीएमपी वन में आत्महत्या और हत्या मामले की जांच शुरू (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बीएमपी वन के कमांडेंट विवेक कुमार (Vivek Kumar, Commandant of BMP -1) ने बताया कि पाेस्टमार्टम हाेने के बाद दाेनाें का शव पटना से दार्जिलिंग भेज दिया गया. शव के साथ सुरक्षाकर्मी भी थे. इस तरह की घटना फिर न हाे, इसके लिए पैनी नजर रखने का आदेश दिया गया है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 3, 2020, 12:16 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार सैन्य पुलिस (Bihar Military Police) के परिसर में महिला BMP जवान वर्षा तितुंग तिमांग  के कत्ल और जवान अमर सुब्बा के सुसाइड मामले में एयरपाेर्ट थाना (Airport Police station) की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने माैके से जब्त अमर के एसएलआर और वहां से मिले खाेखे काे एफएसएल जांच के लिए भेज दिया है. यही नहीं दाेनाें के माेबाइल काे भी पुलिस ने जब्त कर लिया है.  हालांकि दाेनाें माेबाइल लाॅक हैं, इसलिए बहुत कुछ पता नहीं चल पाया है. इस बीच एक खबर सामने आई है कि शादीशुदा होने के बावजूद दोनों के बीच प्रेम प्रसंग (Love affairs) भी चल रहा था. मामले में एक अहम बात ये भी सामने आई है कि मंगलवार काे दाेनाें की पहली बार मैग्जीन के संतरी की ड्यूटी एक साथ लगी थी.

पहले गोली मारी फिर की आत्महत्या

बताया जा रहा है कि दाेनाें काे एक साथ 10 बजे ड्यूटी करनी थी, पर ड्यूटी शुरू करने से करीब सवा घंटे पहले ही अमर सुब्बा महिला रेस्ट रूम में गए और वहां मौजूद वर्षा पर एसएलआर से 4 गाेलियां दाग दीं. उसके बाद उन्हाेंने वहीं पर उसी कमरे में खुद काे सिर में गाेली मार सुसाइड कर ली.  बहरहाल घटना के बाद से ही कामकाज व ड्यूटी शुरू हाे गई पर वहां के जवान व अधिकारी दाे जवानाें की माैत से सदमे में हैं. हर काेई यह कह रहे थे कि चंद मिनट में क्या से क्या हाे गया. एक साथ दाे परिवार उजड़ गया.



एयरपोर्ट थाना में दर्ज हुआ केस
इस मामले में एयरपाेर्ट थाना में लील बहादुर थापा के बयान पर केस दर्ज हुआ है. थापा ही मंगलवार काे ड्यूटी जांच पदाधिकारी के रूप में बीएमपी वन में प्रतिनियुक्त थे. थापा ने दर्ज केस में कहा है कि गिनती हाेने के बाद दाे सिपाही मग्जीन संतरी के ड्यूटी में तैनात हाे गए. छह काे 3 शिफ्ट में दाे-दाे घंटे पर तैनात हाेना था. वर्षा औरर उसके साथ काम करने वाली रमिता दाेनाें महिला रेस्ट रूम में चली गईं. अमर व अन्य जवान पुरुष रेस्ट रूम में चले गए.

हत्या और आत्महत्या से मचा हड़कंप

थापा का कहना है कि वह खुद काम में लग गए. इसी बीच पाैने नाै बजे चार-पांच गाेली चलने की आवाज सुनाई दी. गाेली चलने के फाैरन बाद रमिता रेस्ट रूम से चिल्ल्लाते हुए निकली. महिला रेस्ट रूम में गए ताे देखा कि वर्षा औरर अमर दाेनाें खून से लथपथ हैं और दाेनाें की माैत हाे चुकी है. अमर का एसएलआर शव के पास ही है.

डिप्रशेन में था अमर, चल रहा था इलाज

इन दाेनाें के बारे में सभी जवानाें काे जानकारी थी कि उनके बीख प्रेम-प्रसंग चल रहा है, हालांकि दाेनाें शादीशुदा थे. दाेनाें के बीच सात-आठ माह से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. थापा ने दर्ज बयान में भी इसका जिक्र किया है. अमर की पत्नी दीपा काे भी यह जानकारी थी कि दाेनाें के बीच लव अफेयर्स चल रहा है. दीपा ने राखी बंधन के दिन वर्षा से बात की थी कि तुम मेरा घर क्याें बर्बाद कर रही हो.

दीपा ने वर्षा काे बहन का हवाला दिया था. वर्षा ने कहा था कि वह ऐसा नहीं करेगी, पर हाेनी काे ताे कुछ और मंजूर था.  वर्षा उस पर शादी करने का दबाव बनाने लगी तो वह डिप्रेशन में चला गया था. उसका इलाज भी चल रहा था. फिर मंगलवार काे बीएमपी वन के परिसर में जाे हुआ, शायद किसी ने साेचा भी नहीं था. अधिकारियाें का कहना है कि दाेनाें ड्यूटी व समय के बड़े पाबंद थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज