Brahampur Assembly Constituency : मतदाता देते रहे हैं उन्हीं का साथ, जो न करे कोरी बात

आजादी के बाद 1952 में गठित ब्रह्मपुर विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस-राजद की मजबूत स्थिति रही है.
आजादी के बाद 1952 में गठित ब्रह्मपुर विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस-राजद की मजबूत स्थिति रही है.

2015 में जदयू एनडीए का हिस्सा नहीं रहा और नतीजे बदल गए. इस चुनाव में एनडीए को जिले में एक सीट भी हासिल नहीं हुई. ब्रह्मपुर की सीट पर राजद के उम्मीदवार शंभुनाथ यादव को जीत मिली.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 27, 2020, 4:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिहार व उत्तर प्रदेश की सीमा पर स्थित बक्सर धार्मिक व ऐतिहासिक महत्व के लिए जाना जाता है. दरअसल, बक्सर जिले में चार विधानसभा क्षेत्र हैं - ब्रह्मपुर, बक्सर और डुमरांव और राजपुर (सुरक्षित सीट). इनमें ब्रह्मपुर विधानसभा क्षेत्र (Brahampur Assembly Constituency) में कुल वोटर 316046 हैं. आजादी के बाद 1952 में गठित ब्रह्मपुर विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस-राजद की मजबूत स्थिति रही है. कई बार इस विधानसभा सीट का भूगोल बदलता रहा, लेकिन 1990 के पहले तक कांग्रेस-निर्दलीय व समाजवादियों का ही कब्जा रहा. 1962 से लगातार तीन बार के चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी ही यहां से जीतते रहे. 2010 के चुनाव में जदयू के साथ रहते चारों सीटों पर एनडीए को जीत मिली. वहीं, 2015 में जदयू एनडीए का हिस्सा नहीं रहा और नतीजे बदल गए. इस चुनाव में एनडीए को जिले में एक सीट भी हासिल नहीं हुई, जबकि जदयू के खाते में राजपुर और डुमरांव सीट गए. वहीं, एक सीट बक्सर में कांग्रेस और ब्रह्मपुर पर राजद को जीत मिली.

2015 में राजद के खाते में गई थी सीट

चुनाव आयोग के आंकड़े बताते हैं कि 2015 के चुनावों में यह सीट राजद के शंभुनाथ यादव के पाले में गई. दूसरे नंबर पर भाजपा के विवेक ठाकुर रहे. बीजेपी ने सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी ठाकुर के बेटे विवेक ठाकुर को टिकट यहां से उतारा था. राजद के शंभुनाथ को 94079 वोटरों का समर्थन मिला था, जबकि विवेक ठाकुर को 63303. इस चुनाव में तीसरे नंबर पर बीएसपी के अजीत चौधरी रहे थे, जिन्हें कुल 5690 वोट मिले थे.



2010 का चुनावी गणित
15 सालों से अपने गढ़ माने जाने वाली ब्रह्मपुर सीट से बीजेपी को हार का सामना करना पड़ रहा था. ऐसे में पार्टी ने स्व. कैलाशपति मिश्रा की बहु पर विश्वास जताते हुए उन्हे टिकट दिया. नतीजा सही निकला और दिलमाणि ने इस सीट पर बीजेपी का झंडा लहराया. 2010 के चुनाव में उन्होंने राजद के अजीत चौधरी को हराकर बीजेपी को वापस यह सीट दिलाई.

ब्रह्मपुर विधानसभा क्षेत्र

2015 : शंभुनाथ यादव (राजद) 94079 वोट             विवेक ठाकुर (भाजपा) 63303 वोट
2010 : दिलमणि देवी (भाजपा)                               अजीत चौधरी (राजद)
2005 : अजीत चौधरी (राजद)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज