अपना शहर चुनें

States

बिहार पॉलिटिक्स: नीतीश की अगुवाई इतनी भायी कि BSP के इकलौते विधायक ने थामा JDU का हाथ

जमा खान ने आज जदयू नेता अशोक चौधरी के आवास पर हुए मिलन समारोह में जदयू में शामिल होने का औपचारिक ऐलान कर दिया.
जमा खान ने आज जदयू नेता अशोक चौधरी के आवास पर हुए मिलन समारोह में जदयू में शामिल होने का औपचारिक ऐलान कर दिया.

जमा खान बतौर बीएसपी प्रत्याशी कैमूर चैनपुर से जीते थे. उन्होंने आज जदयू नेता अशोक चौधरी के आवास पर हुए मिलन समारोह में जदयू में शामिल होने का औपचारिक ऐलान कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2021, 8:54 AM IST
  • Share this:
पटना. जदयू (JDU) ने आज बड़ा राजनीतिक उलटफेर करते हुए बीएसपी (BSP) के इकलौते विधायक को पार्टी में शामिल कर लिया. जमा खान (Jama Khan) बतौर बीएसपी प्रत्याशी कैमूर चैनपुर से जीते थे. उन्होंने आज जदयू नेता अशोक चौधरी के आवास पर हुए मिलन समारोह में जदयू में शामिल होने का औपचारिक ऐलान कर दिया. जदयू में शामिल होने से पहले जमा खान ने सीएम आवास जाकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात कर जदयू में शामिल होने को लेकर अपनी आस्था जताई.

जमा खान ने जदयू में शामिल होने की वजहें गिनाईं

इस मौके पर जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा, जदयू नेता अशोक चौधरी और श्रवण कुमार भी मौजूद रहे. जेडीयू में शामिल होने की घोषणा करते हुए जमा खान ने कहा कि नीतीश कुमार ने बिहार में जिस ढंग से विकास के काम किए हैं, उससे प्रेरित होकर जदयू में शामिल हुआ हूं. नीतीश कुमार ने विकास के साथ अल्पसंख्यकों के लिए बजट में बड़ा प्रावधान किया और अब शिक्षकों के लिए कई बड़े काम किए हैं. जिसके कारण आज जदयू में शामिल हो रहा हूं. जमा खान ने कहा कि चैनपुर का इलाका अत्यंत पिछड़ा हुआ है. वहां पर और विकास के काम के लिए पार्टी से जुड़ना जरूरी था. जिसके कारण यह फैसला लिया है. निर्दलीय विधायक सुमित सिंह ने भी जदयू को समर्थन देने का एलान करते हुए कहा कि पहली बार झारखंड मुक्ति मोर्चा से विधायक बना था, उसके बाद दूसरी बार निर्दलीय चुना गया हूं. अपने विधानसभा क्षेत्र में और ज्यादा विकास काम करने के लिए जदयू को खुला समर्थन दिया है.



जमा खान और सुमित सिंह बनेंगे मंत्री
जमा खान और निर्दलीय विधायक सुमित सिंह के समर्थन के बाद दोनों का मंत्री बनना लगभग तय माना जा रहा है. सूत्रों की जानकारी के मुताबिक इस बारे में जदयू के आलाकमान से बात हो चुकी है. मंत्रिमंडल का जैसे ही विस्तार होगा जमा खान और सुमित सिंह मंत्रिमंडल में शामिल किए जाएंगे.

दोनों के समर्थन के बाद जेडीयू का कुनबा बढ़ा

2020 के विधानसभा चुनाव में 43 सीटों के साथ जदयू तीसरे पायदान पर रही थी. अब जमा खान के जदयू में शामिल होने के बाद जेडीयू की संख्या बढ़कर 44 हो गई है. निर्दलीय विधायक सुमित सिंह दलबदल नियमों के अनुसार जदयू में औपचारिक रूप से शामिल नहीं हो सकते, इसलिए उन्होंने समर्थन की घोषणा की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज