बिहार: पेपर लीक मामले के आरोपी ने मांगी इच्छा मृत्यु, बताई ये वजह

बीएसएससी की इंटर स्तरीय पीटी परीक्षा में प्रश्नपत्र और उसके उत्तर लीक होने के मामले में बिहार सरकार ने आठ फरवरी 2017 को परीक्षा रद्द कर दी थी.

News18 Bihar
Updated: May 16, 2019, 12:50 PM IST
बिहार: पेपर लीक मामले के आरोपी ने मांगी इच्छा मृत्यु, बताई ये वजह
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18 Bihar
Updated: May 16, 2019, 12:50 PM IST
बिहार स्टाफ सलेक्शन कमीशन की परीक्षा के पेपर लीक मामले में पटना के बेउर जेल में बंद एक आरोपी ने इच्छा मृत्यु मांगी है. उसने आरोप लगाया है कि कोर्ट के आदेश के बाद भी उनका इलाज नहीं करवाया जा रहा है. निगरानी कोर्ट के जज से की गई अपनी अपील में उसने कहा कि जेल अस्पताल में उसकी बीमारी का इलाज नहीं है.

दरअसल बेउर जेल में बंद आरोपी भोला उर्फ नितेश ने निगरानी कोर्ट के जज से इच्छा मृत्यु की अपील की है. कोर्ट को दिए आवेदन में उसने कहा कि वह 5 महीने से बीमार है और जज के आदेश के बाद भी उसका इलाज नहीं करवाया जा रहा है. जेल अस्पताल में उसकी बीमारी का इलाज नहीं है.

ये भी पढ़ें- 'नीतीश की मदद से केंद्र में बन सकती है गैर बीजेपी सरकार'

उसने कहा है कि विशेष जज के आदेश के बाद भी जेल अधिकारी उन्हें इलाज के लिए पीएमसीएच नहीं भेज रहे हैं. बता दें कि बिहार कर्मचारी चयन आयोग पेपर लीक मामले में आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार समेत 40 आरोपी जेल में बंद हैं.

गौरतलब है कि वर्ष 2017 में बीएसएससी की इंटर स्तरीय पदों के लिए हुई प्रारंभिक परीक्षा में प्रश्नपत्र और उसके उत्तर लीक होने के मामले में अहम सबूत मिलने के बाद बिहार सरकार ने आठ फरवरी 2017 को परीक्षा रद्द कर दी थी.

ये भी पढ़ें- बिहारी बाबू के समर्थन में राहुल गांधी का रोड शो आज

इस मामले की जांच की जिम्मेवारी विशेष जांच टीम (एसआईटी) को सौंपी गई थी. गौरतलब है कि इस मामले में बीएसएससी के अध्यक्ष आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार, सचिव परमेश्वर राम और आयोग के डाटा एंट्री ऑपरेटर अविनाश कुमार सहित 40 लोगों को गिरफ्तार किया गया था.
Loading...

इनपुट- क्रांति कुमार

ये भी पढ़ें- पटना में ममता पर बरसे योगी, कहा- TMC, RJD में कोई अंतर नहीं
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार