बिहार में चुनाव से पहले सरकारी नौकरी की बहार, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग में 12,621 पदों पर होगी नियुक्ति
Patna News in Hindi

बिहार में चुनाव से पहले सरकारी नौकरी की बहार, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग में 12,621 पदों पर होगी नियुक्ति
बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (फाइल फोटो)

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (Health Minister Mangal Pandey) ने कहा कि सरकार सरकारी अस्पतालों (Government hospitals) में रिक्त डॉक्टर, नर्स और अन्य कर्मियों के पदों पर लगातार नियुक्तियां कर रही है.

  • Share this:
पटना. आचार संहिता लगने से पहले सरकार जहां पुल, पुलिये, अस्पताल और सड़क के शिलान्यास और उद्धाटन में कोई कसर नहीं छोड़ रही है. वहीं, अब स्वास्थ्य विभाग (Health Department) में बंपर वैकेंसी निकाली जा रही है. सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (Health Minister Mangal Pandey) ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission) के तहत सितम्बर महीने में सामान्य चिकित्सक-221, विशेषज्ञ चिकित्सक-400, जीएनएम-4000 एवं 8000 एएनएम के साथ कुल 12,621 पदों के लिए विज्ञापन निकलने वाला है. बीते 3 सालों में स्वास्थ्य विभाग में कितने पदों पर बहाली की गई है, उसका भी ब्योरा देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि बिहार में महज तीन साल में 21 हजार 530 नियुक्तियां विभिन्न श्रेणियों में हुई हैं और अब चार हजार चिकित्सकों की नियुक्ति इसी माह होने वाली है.

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि तीन वर्षों में 11 नये मेडिकल काॅलेज और एक डेंटल काॅलज के निर्माण की प्रक्रिया सरकार ने पूरी की है. इनमें चार मेडिकल काॅलेज एवं एक डेंटल काॅलेज के निर्माण का कार्य चल रहा है. वहीं, दो मेडिकल काॅलेजों का शिलान्यास अगले कुछ दिनों में सम्पन्न होगा. साथ ही  चार मेडिकल काॅलेजों के लिए निविदा आमंत्रित की गयी है.

नियुक्ति के संबंध में जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि पिछले तीन वर्षों में सामान्य चिकित्सक-535, विशेषज्ञ चिकित्सक-1465, दंत चिकित्सक-543, पीजी डिप्लोमा सत्र-2019-20-48, जूनियर रेजिडेंट-1094, सीनियर रेजिडेंट-1393, सीनियर रेजिडेंट  पीजी बाॅण्ड(सत्र-2016-19 एवं 2017-20)-603, सहायक प्राध्यापक-1178, सह प्राध्यापक एवं प्राध्यापक-245 अर्थात 7104 चिकित्सकों की नियुक्ति राज्य के विभिन्न मेडिकल काॅलेज सह अस्पताल एवं जिलों के विभिन्न अस्पतालों के लिए की गई है.



इसके अतिरिक्त एनएनएम-6316, जीएनएम-6501, एक्स-रे टेकनिशियन-171, ईसीजी टेकनिशियन-09, ओटी सहायक-181 तथा अन्य 1248 नियुक्तियों को मिलाकर कुल 21,530 नियुक्तियां की गयी हैं. विपक्ष पर हमला बोलते हुए मंत्री ने कहा कि प्रतिपक्ष की राजनीति करने वाले लोग अच्छी तरह से समझ लें कि राज्य की सरकार लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें देने के लिए प्रतिबद्ध है.
मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग जहां अपनी क्षमताओं का विस्तार कर रहा है, वहीं सुविधाओं में लगातार सुधार कर सूबे की जनता को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधायें मुहैया करा रहा है. इनकी मानें तो एनडीए सरकार में  नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के नेतृत्व में जो काम हुआ है उसका यह सिर्फ ट्रेलर है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज