Home /News /bihar /

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम: CBI ने नियुक्त किया पब्लिक प्रोसिक्यूटर, 2 मार्च से होगी नियमित सुनवाई

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम: CBI ने नियुक्त किया पब्लिक प्रोसिक्यूटर, 2 मार्च से होगी नियमित सुनवाई

फाइल फोटो

फाइल फोटो

जानकारी के मुताबिक साकेत कोर्ट 2 मार्च को इस मामले में सभी आरोपियों के खिलाफ आरोप तय कर सकता है.

    बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में सीबीआई ने सुनवाई के लिए स्पेशल पब्लिक प्रोसिक्यूटर नियुक्त किया है. इस मामले में साकेत कोर्ट के आदेश बाद सीबीआई ने वकील अमित जिंदल को स्पेशल पब्लिक प्रोसिक्यूटर बनाया है.

    इससे पहले सुनवाई के दौरान दिल्ली के साकेत कोर्ट में मुख्य आरोपी बृजेश ठाकुर समेत अन्य आरोपी भी पेश हुए. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान सभी आरोपियों को चार्जशीट की कॉपी देनें का आदेश दिया. कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि 2 मार्च से इस केस की नियमित सुनवाई होगी और किसी भी सूरत में इस मामले की सुनवाई को टाला नहीं जाएगा.

    ये भी पढ़ें- जानिए- मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस से जुड़ी बड़ी बातें

    जानकारी के मुताबिक साकेत कोर्ट 2 मार्च को इस मामले में सभी आरोपियों के खिलाफ आरोप तय कर सकता है. मालूम हो कि बिहार के इस बहुचर्चित मामले का खुलासा टिस्क की रिपोर्ट के बाद हुआ था. इस केस में पुलिस ने मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत कई लोगों को गिरफ्तार किया है.

    ये भी पढ़ें- शूटआउट@पटना: बाइक सवार अपराधियों ने युवक को दिनदहाड़े गोलियों से भूना, मौके पर मौत

    मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार को भी फटकार लगाई थी. सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा था कि है यह बहुत ही दुर्भाग्य की बात है कि आपके शासन में बच्चों के साथ इतना क्रूर बर्ताव किया जा रहा है. मुख्य न्यायाधीश ने राज्य सरकार से कहा था कि आप प्रदेश में इस तरह की चीजों को इजाजत नहीं दे सकते हैं. साथ ही कोर्ट ने गुरुवार दो बजे तक सारे सवालों  के जवाब देने को भी कहा है.

    इनपुट- सुशील कुमार पांडेय

    Tags: Bihar News, CBI, Muzaffarpur news, Muzaffarpur Shelter Home Rape Case

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर