मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केसः मास्टरमाइंड ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेगी सीबीआई

रिमांड के लिए अदालत में आवेदन देने से पहले सीबीआई ने ब्रजेश ठाकुर की मेडिकल रिपोर्ट अपने पास मंगवाई है. जांच एजेंसी को पेशी के दौरान हंसते ब्रजेश ठाकुर के बीमार होने पर भी शक है.

आलोक कुमार | News18 Bihar
Updated: August 10, 2018, 11:43 AM IST
मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केसः मास्टरमाइंड ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेगी सीबीआई
ब्रजेश ठाकुर (FILE PHOTO)
आलोक कुमार
आलोक कुमार | News18 Bihar
Updated: August 10, 2018, 11:43 AM IST
मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड मामले की जांच कर रही केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है. रिमांड के लिए अदालत में आवेदन देने से पहले सीबीआई ने ब्रजेश ठाकुर की मेडिकल रिपोर्ट अपने पास मंगवाई है. जांच एजेंसी को पेशी के दौरान हंसते ब्रजेश ठाकुर के बीमार होने पर भी शक है.

सीबीआई सूत्रों के मुताबिक बहुत जल्द ही मुजफ्फरपुर लोकल कोर्ट में रिमांड के लिए जरूरी दस्तावेज जमा कराया जाएगा. बालिका गृह रेप केस सामने आने के बाद ब्रजेश ठाकुर को मुजफ्फरपुर पुलिस ने 3 जून को गिरफ्तार किया था. इसके बाद महज 5 दिन ही जेल के वार्ड में रहकर वह अस्पताल में भर्ती हो गया.

मुजफ्फरपुर के साहू रोड में सरकार प्रायोजित बालिका गृह का संचालन ठाकुर का एनजीओ सेवा संकल्प एवं विकास समिति कर रहा था. इस एनजीओ की सात महिलाकर्मियों समेत कुल 10 लोग गिरफ्तार किए गए थे. ठाकुर समेत सभी 10 आरोपियों के खिलाफ मुजफ्फरपुर पुलिस चार्जशीट दाखिल कर चुकी है.

मामले की जांच 26 जुलाई को सीबीआई को सौंपने से पहले बिहार पुलिस ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने में नाकामयाब रही, जिसके लिए उसकी काफी आलोचना भी हुई थी. इस बीच कोर्ट में पेशी के दौरान मीडियाकर्मियों से बात करते हुए ब्रजेश ठाकुर ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया और इसके पीछे राजनीतिक साजिश की बात कही थी.

दूसरी ओर सीबीआई इस मामले में समाज कल्याण विभाग से इस्तीफा दे चुकी मंत्री मंजू वर्मा के पति चंदेश्वर वर्मा से भी पूछताछ कर सकती है. मामले की जांच के दौरान सामने आया कि चंदेश्वर वर्मा और मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर के बीच इस साल जनवरी से मार्च के बीच 17 बार मोबाइल पर बातचीत हुई है. इसका खुलासा ब्रजेश ठाकुर के कॉल डिटेल रिकॉर्ड से हुआ है.

रेप कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर ने यह बयान दिया है कि वह राजनीतिक मसलों पर चंदेश्वर वर्मा से बातचीत किया करते थे. इस खुलासे के बाद सीबीआई चंदेश्वर वर्मा के पास पहुंचने की तैयारी कर रही है.

सूत्रों के मुताबिक सबसे पहले चंदेश्वर वर्मा को समन भेजा जाएगा. सीबीआई की कोशिश होगी कि वह खुद इस मामले से जुड़ी जानकारियां शेयर करें. अगर किसी तरह सीबीआई को यह पता चलता है की चंदेश्वर वर्मा ने अपनी पत्नी मंत्री मंजू वर्मा के विभाग का उपयोग ब्रजेश ठाकुर को मदद पहुंचाने के लिए किया तो उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता है .
Loading...
ये भी पढ़ें -

पेशी के वक्त हंसते दिख रहे ब्रजेश ठाकुर की बीमारियों पर सीबीआई को शक

जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड मेंबर के अवैध शेल्टर होम से बच्चा गायब, कोई एफआईआर नहीं

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांडः मंजू वर्मा के पति से पूछताछ की तैयारी में सीबीआई

ब्रजेश ठाकुर के कॉल डिटेल से मिला उसकी 'मिस्ट्री वुमन' मधु का अहम सुराग
पूरी ख़बर पढ़ें
Loading...
अगली ख़बर