गिरिराज सिंह के निशाने पर कमल हासन, बोले- जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं
Patna News in Hindi

गिरिराज सिंह के निशाने पर कमल हासन, बोले- जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं
गिरिराज सिंह-कमल हासन

गिरिराज सिंह ने कहा कि देश में हिन्दुओं को आपसे या आपकी कौम से घृणा होती तो आप सभी सिने कलाकार सुपर स्टार न बनते.

  • Share this:
बीजेपी के फायर ब्रांड नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सिने अभिनेता कमल हासन, आमिर खान और नसीरुद्दीन शाह पर जुबानी हमला बोला है. गिरिराज ने कहा कि ये तमाम लोग हिंदुत्व को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुझे समझ नहीं आ कहा कि क्यों हिंदुओं के प्रति घृणा फैलाने की कोशिश की जा रही है?

ये भी पढ़ें- बिहार: सातवें चरण में 'आखिरी दांव' लगाने आ रहे पीएम मोदी

गिरिराज सिंह ने कहा कि हामिद अंसारी कहते हैं भारत में अजीब सा लग रहा है. कमल हासन ने तो हिंदुओं को आतंकी कह डाला. गिरिराज ने कहा कि मेरा सवाल है कि देश में हिन्दुओं को आपसे या आपकी कौम से घृणा होती तो आप सभी सिने कलाकार सुपर स्टार न बनते. हिंदू अगर घृणा करते तो आपकी फिल्में न देखते. उन्होंने कमल हासन पर निशाना साधते हुए कहा कि आप जिस पत्तल में खाते हो, उसी में छेद करते हैं.



ये भी पढ़ें- 'पूरे देश में मोदी लहर, NDA को मिलेगी 300 से ज्यादा सीटें'



दरअसल तमिलनाडु में चुनाव प्रचार करते हुए कमल ने कहा कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी एक हिंदू था. महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की ओर इशारा करते हुए हासन ने कहा कि वह एक हिन्दू आतंकी था. चुनावी मुद्दे के संदर्भ में गिरिराज ने कहा कि बीजेपी देश में मुद्दों पर ही बात करती है लेकिन इसको लेकर जिस तरीके से सेक्यूलरिज्म के नाम पर गालियां दी जाती है वो जायज नहीं है. मैं सनातन धर्म की बात करता हूं तो लोग मुझे गालियां देते हैं. देश में जो कट्टरपंथी हैं वो हावी हो रहे हैं और हिन्दुओं को बदनाम किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- 'शूर्पणखा' से 'जल्लाद' तक कुछ ऐसी है बिहारी नेताओं की जुबान

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मैं हिन्दुत्व की बात करता हूं तो मेरे पर केस किया जाता है. राम मंदिर का जिक्र करते हुए गिरिराज ने कहा कि राम मेरे कण-कण में हैं और हम राम मंदिर बनाने में अगर शिया का सहयोग पा रहे हैं तो इसके साथ सुन्नियों का भी सहयोग चाहते हैं. अगर उनका सहयोग नहीं मिलेगा तो मुझे दुख होगा. राम मंदिर के लिए यहां के मुसलमानों को सोचना पड़ेगा क्योंकि देश का बंटवारा धर्म के नाम पर हुआ था और आप इस देश में 3 करोड़ से 30 करोड़ हो गए लाखों मस्जिद बन गए. गिरिराज ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि योगदान नहीं करने वाले अल्पसंख्यकों के विरुद्ध क्या करना है ये हम सोचेंगे.

इनपुट- अमित कुमार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading