गिरिराज सिंह बोले- हरिवंश बिहार के बेटे हैं, उनके साथ राज्यसभा में हुई घटना अर्बन नक्सल का चरित्र

गिरिराज सिंह की फाइल फोटो
गिरिराज सिंह की फाइल फोटो

राज्यसभा से उप सभापति हरिवंश ने इस पूरे मामले को लेकर उपराष्‍ट्रपति व राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू (Venkaiah Naidu) को पत्र लिखा है. उन्‍होंने कहा कि 20 सितंबर को राज्‍यसभा में जो कुछ भी हुआ, उससे वह पिछले दो दिनों से आत्‍मपीड़ा, आत्म तनाव और मानसिक वेदना में हैं. वह पूरी रात सो नहीं पाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 11:50 PM IST
  • Share this:
पटना. बीजेपी के फायरब्रांड नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश (Harivansh Narayan Singh) के साथ हुए दुर्व्यवहार की कड़ी आलोचना की है. बेगूसराय से बीजेपी के सांसद गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने कहा कि हरिवंश गांधीवादी हैं. वो जयप्रकाश की धरती से पले हैं और चंद्रशेखर के अनुयायी और मर्यादा के प्रतीक हैं. उन्होंने कहा कि बिहार के बेटे के साथ जानलेवा हमले का माहौल बन गया था. अगर मार्शल न होते तो कुछ भी हो सकता था. उन्‍होंने सदन में ऐसा व्‍यवहार करने वाले सदस्‍यों पर हमला करते हुए उनकी तुलना अर्बन नक्‍सल से कर डाली.

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए गिरिराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस के लोग उछल-उछल कर गालियां दे रहे हैं, लेकिन इसका जवाब उनको बिहार में देना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि हरिवंश जो बोलते हैं वो चरित्र में उतारते हैं. गिरिराज ने कहा कि जिन लोगों ने हरिवंश के साथ गलत व्यवहार किया वो अर्बन नक्सल का चरित्र था. गिरिराज सिंह ने कहा कि हरिवंश संत आदमी हैं. वो बिहार के बेटे हैं.

केंद्रीय मंत्री ने राज्यसभा में हुई घटना का जिक्र करते हुए कहा कि विपक्ष का व्यवहार गलत है. ऐसे विपक्ष को बिहार कभी माफ नहीं करेगा. बिहार चुनाव में इस मुद्दे को उठाने के सवाल पर गिरिराज सिंह ने कहा कि इस मुद्दे को हम बिहार में उठाएंगे. उन्होंने कहा कि फार्म बिल के नाम पर विपक्ष देश के किसानों को भरमा रहा है. मेरी किसानों से की अपील है कि वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भरोसा रखें.




मालूम हो कि संसद के मानसून सत्र के दौरान रविवार को राज्‍यसभा में कृषि विधेयकों पर काफी हंगामा देखने को मिला था. कुछ राज्‍यसभा सदस्‍यों ने उपसभापति हरिवंश के साथ अमर्यादित आचरण तक कर दिया. इसके बाद 8 सांसदों को सोमवार को सभापति वेंकैया नायडू ने पहले हफ्ते भर और फिर पूरे सत्र के लिए निलंबित कर दिया. हरिवंश मंगलवार सुबह इन सांसदों से मिलने पहुंचे. इस दौरान वह उनके लिए चाय और नाश्ता भी लेकर आए. उनके इस आचरण की पीएम नरेंद्र मोदी ने भी तारीफ की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज