बाढ़ से 2700 करोड़ रुपये नुकसान का बिहार सरकार का दावा, आकलन कर रही केंद्रीय टीम

News18 Bihar
Updated: August 29, 2019, 1:16 PM IST
बाढ़ से 2700 करोड़ रुपये नुकसान का बिहार सरकार का दावा, आकलन कर रही केंद्रीय टीम
बिहार में बाढ़ से 13 जिले बुरी तरह प्रभावित हुए थे. सरकार का अनुमान है कि इससे 2700 करोड़ रुपये सेअधिक का नुकसान हुआ है.

राज्य में जुलाई-अगस्त में अचानक आई बाढ़ के कारण बिहार के 13 जिलों अररिया, किशनगंज, मधुबनी, पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, सहरसा, कटिहार, पूर्णिया और पश्चिमी चम्पारण में भारी नुकसान हुआ था.

  • Share this:
बिहार में बाढ़ (Flood in Bihar) से हुई क्षति का आकलन करने बिहार पहुंची केंद्रीय टीम (Central Team) आज सीतामढ़ी दौरे पर है. टीम में केंद्र से चार और बिहार से तीन सदस्य शामिल शामिल हैं. तीन दिवसीय दौरे पर पटना (Patna) पहुंची टीम ने बुधवार को विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया. बता दें कि बिहार सरकार ने 2700 करोड़ रुपये की क्षति का दावा किया है. टीम का नेतृत्व  एनडीएमए (NDMA) के संयुक्त सचिव जी रमेश कुमार कर रहे हैं.

आपदा प्रबंधन विभाग (Disaster Management Department) के अधिकारी के अनुसार टीम शनिवार तक बिहार के सभी 13 बाढ़ग्रस्त जिले में हुई क्षति का जायजा लेगी.  संभावना है कि टीम रविवार को दिल्ली वापस लौट जायेगी.

सरकारी आंकड़ों के अनुसार बिहार के 13 जिलों में बाढ़ से हुई क्षति का ब्योरा इस प्रकार. 

राज्य के बाढ़ग्रस्त जिलों के नाम

अररिया, किशनगंज, मधुबनी, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 29, 2019, 12:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...