Home /News /bihar /

शराबबंदी: नीतीश सरकार के फैसले से क्यों नाराज हैं बिहार के 20 हजार चौकीदार-दफादार 

शराबबंदी: नीतीश सरकार के फैसले से क्यों नाराज हैं बिहार के 20 हजार चौकीदार-दफादार 

नीतीश सरकार के फैसले से बिहार के चौकीदारी खासे नाराज हैं

नीतीश सरकार के फैसले से बिहार के चौकीदारी खासे नाराज हैं

Bihar Liquor Ban Policy: नीतीश सरकार ने शराबबंदी की समीक्षा के दौरान ये फैसला लिया है कि अगर किसी इलाके से शराब की बरामदगी होती है तो थानेदार और चौकीदार दोनों पर कार्रवाई होगी. सरकार के इस फैसले से बिहार के 20 हजार से अधिक चौकीदार-दफादार नाराज और आक्रोशित हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में शराबबंदी की समीक्षा के दौरान सीएम नीतीश सरकार (Nitish Kumar) ने साफ कर दिया है कि अगर किसी थाना इलाके में शराब की बरामदगी होती है तो थानेदार और चौकीदार दोनों पर कार्रवाई होगी. नीतीश सरकार (Nitish Government) के इस फैसले के बाद बिहार के लगभग बीस हजार से ज़्यादा की संख्या में विभिन्न थानों में तैनात चौकीदार और दफादार बेहद नाराज हैं. वो इस फैसले पर सवाल उठाकर सरकार को अपनी एक मांग पत्र सौंपने वाले हैं, जिसमे मांग की जाएगी कि चौकीदारो पर इतना कठोर शर्त ना लादा जाए.

अगर बावजूद इसके मांग नहीं मानी जाएगी तो सरकार को घेरने की तैयारी भी की जा रही है. सरकार के फैसले पर चौकीदारों का दर्द है. क्या जब इस बारे में गांधी मैदान में जुटे बिहार के कई थानों से आए चौकीदारो से न्यूज़ 18 ने बातचीत किया तो उनका दर्द सामने आ गया. गौरीचक थाना में तैनात चौकिदार अखिलेश ने बताया की हमसे का पूछते हैं सर, हम पूरा दिन अपने इलाक़े में घूमते रहते हैं और जहां भी शराब से जुड़ा हुआ खबर मिलता है तुरंत उसकी खबर थाना में देते हैं लेकिन थाना के लोग दो चार दिन बाद उस जगह जाते हैं तब तक उस जगह से सब कुछ हट चुका रहता है. ऊपर से हम पर ही आरोप लग जाता है कि हम ही शराब माफिया से मिले हुए हैं.

कुछ ऐसा ही दर्द है चौकीदार रविंद्र मांझी का. वो कहते हैं कि चौकीदारों को तो बलि का बकरा बनाया जा रहा है. अवैध शराब का धंधा कहां चल रहा है और उसकी जानकारी थाना को भी समय पर पहुंचा देते हैं लेकिन जैसे ही थाना में ये जानकारी हम देते हैं थाना से ही ये जानकारी लीक कर दिया जाता है और ख़बर शराब माफिया तक पहुंच जाती है और हमारी जान पर ख़तरा बढ़ जाता है.

भगवान पासवान बताते हैं कि हमसे उस काम को अंजाम दिलाया जा रहा है जिसमें सीधे-सीधे जान को खतरा है. ना तो कोई हथियार दिया जाता है ना ही कोई सुरक्षा. आप ही सोचिए अगर किसी अवैध शराब के धंधा करने वालों के सामने पड़ जाएं, तो उसे अपने पकड़े जाने का ख़तरा हो सकता है तो हमारी जान लेने में एक बार भी वो हिचकेगा, बावजूद इसके हम लोग अवैध शराब धंधे की जानकारी पहुंचाते हैं.

बिहार चौकीदार संघ से जुड़े शिवानंद कुमार कहते हैं कि हम चौकीदारों को बलि का बकरा नहीं बनने देंगे. पिछले एक महीने में अवैध शराब का धंधा करने वाले लोगों ने तीन चौकीदारों की हत्या कर दी है. लगातार अवैध शराब का धंधा करने वाले लोगों के निशाने पर चौकीदार हैं. बिहार का चौकीदार संघ इस बात को लेकर गम्भीरता से मंथन कर रहा है और सरकार को अपनी चिंता से अवगत कराने की तैयारी कर रहा है. संघ से जुड़े लोगों ने बताया कि हमारी कुछ मांगें हैं, अगर उस पर गम्भीरता से बात नहीं सुनी गई तो बिहार के हजारों चौकीदार सड़क पर उतरकर सरकार को घेरने की तैयारी कर रहे हैं.

Tags: Bihar Liquor Smuggling, Bihar News, Illicit liquor business, Liquor Ban, Nitish Government, PATNA NEWS

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर