• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • नीतीश कुमार पर हमलावर चिराग पासवान, कहा- जिन्‍होंने पिता को अपमानित किया चाचा उन्‍हीं की गोद में जा बैठे

नीतीश कुमार पर हमलावर चिराग पासवान, कहा- जिन्‍होंने पिता को अपमानित किया चाचा उन्‍हीं की गोद में जा बैठे

न्यूज़18 क्रिएटिव

न्यूज़18 क्रिएटिव

Chirag Paswan Statement: चिराग पासवान ने अपने चाचा पशुपति पारस के तानाशाह वाले बयान पर कहा कि अगर मैं तानाशाह होता तो मेरे साथ इतने नेताओं का समर्थन कैसे होता?

  • Share this:
    पटना. जमुई से सांसद चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने एक बार फिर से अपने चाचा पशुपति पारस और बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर हमला बोला है. पटना में पत्रकारों से बातचीत के दौरान चिराग पासवान ने कहा कि जब मेरे पिता बीमार थे तो नीतीश कुमार ने उनका हालचाल तक नहीं पूछा था. उन्होंने हमारे नेता को हमेशा अपमानित किया, लेकिन आज मेरे चाचा उन्हीं की गोद में जाकर बैठे हैं. चिराग ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री और गृह मंत्री ने सोमवार को पिताजी की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी. विपक्ष ने भी उन्हें याद किया लेकिन नीतीश कुमार ने उन्हें श्रद्धांजलि तक नहीं दी और हमारे चाचा उनके साथ दोस्ती निभा रहे हैं.

    बिहार में आशीर्वाद यात्रा पर निकले चिराग ने कहा कि मेरे पिता के विचारों को रौंदने का काम हमारे चाचा के द्वारा किया जा रहा है. मेरे पिता द्वारा मुझे राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया था. वो कहते हैं मुझे प्रदेश अध्यक्ष पद से क्यों हटाया, तो ये फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष का होता है और उस वक्त मेरे पिता रामविलास पासवान राष्ट्रीय अध्यक्ष थे. चिराग ने कहा कि चाचा आज कह रहे हैं कि अकेले चुनाव लड़ने का फैसला अकेले चिराग का था, तो कोई भी सांसद अपने बच्चों के सिर पर हाथ रख कर कह दे कि ये मेरा अकेले का फैसला था. आपने चिराग के पीठ पर खंजर नही घोंपा, आपने रामविलास जी के पीठ पर खंजर घोंपा है.

    चिराग ने कहा कि ये नीतीश कुमार हैं, जिन्‍होंने रामविलास पासवान को कभी आगे बढने नहीं दिया. हमेशा उनकी राजनीतिक हत्या करने का प्रयास किया. दलित जाति को नीतीश कुमार ने दलित और महादलित में बांटने का काम किया, पासवान जाति को प्रताड़ित करने का काम किया. चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार ने पिछले वर्ष भी हमारे नेता को पूरे दिन जन्मदिन का बधाई देना उचित नहीं समझा था और शाम में सुशील मोदी द्वारा ट्वीट करने पर ट्वीट किया था. चिराग ने टिकट बंटवारे के सवाल पर कहा कि ये लोग हमें 15 सीटें दे रहे थे. आज जो सांसद मेरे विरोध में हैं, उन्हीं की डिमांड में सभी सीटें ख़त्म हो जातीं. वीणा देवी अपनी बेटी के लिए, प्रिंस अपने बड़े भाई के लिए टिकट मांग रहे थे.

    पार्टी में टूट के सवाल पर चिराग ने कहा कि एलजेपी के संविधान के मुताबिक राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव पांच साल का होता है. दो परिस्थिति में ही मुझे हटाया जा सकता है या तो मेरा निधन हो जाय या मैं खुद इस्तीफा दे दूं. ये विरोध मेरा कर रहे हैं या हमारे नेता रामविलास पासवान का. 137 प्रत्याशी में 130 प्रत्याशी हमारे पास हैं. 90 प्रतिशत प्रत्याशी हमारे साथ हैं. 95 प्रतिशत कार्यालय कर्मी हमारे साथ हैं. चिराग ने कहा कि चुनाव के बाद मैंने कहा था कि ये सरकार एक से डेढ़ साल चलेगी. इस सरकार की उल्टी गिनती शुरू है. केंद्रीय मंत्रीमंडल विस्तार के साथ जेडीयू में टूट होगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज