लाइव टीवी

मेनका गांधी के बयान पर बोले चिराग- 'पुलिस पर सवाल तो सिस्टम पर भी खड़े होते हैं सवाल'

News18 Bihar
Updated: December 6, 2019, 2:26 PM IST
मेनका गांधी के बयान पर बोले चिराग- 'पुलिस पर सवाल तो सिस्टम पर भी खड़े होते हैं सवाल'
चिराग पासवान ने कहा कि एक बहन, एक बेटी को इंसाफ मिल गया, लेकिन कईयों को न्याय का इंतजार है.

चिराग पासवान ने कहा कि कई ऐसी घटनाएं हैं जिसमें अब तक इंसाफ नहीं मिला है. निर्भया कांड में अब तक न्याय का इंतजार है. प्रधानमंत्री से मांग करता हूं कि ऐसे मामलों में कडे़े कानून बनाए जाएं और समयबद्ध सुनवाई भी हो.

  • Share this:
नई दिल्ली. हैदराबाद (Hyderabad) में वेटनरी डॉक्टर दिशा (काल्पनिक नाम) के साथ 28 नवंबर की रात चार लोगों ने गैंग रेप (Gangrape) किया. इसके बाद चारो ने मिलकर युवती को जलाकर मार डाला. घटना सामने आने के बाद इसे अंजाम देने वाले आरोपियों को पकड़ लिया गया, लेकिन पूरे देश में इसको लेकर गुस्सा था. लोग मांग कर रहे थे कि इन आरोपियों को जल्द से जल्द सजा दी जाए. शुक्रवार को जब ये खबर आई कि हैदराबाद पुलिस (Hyderabad Police) ने इन चारो को एनकाउंटर में मार दिया गया तो अधिकतर सियासी दलों ने इसका स्वागत किया. लोक जन शक्ति पार्टी (LJP) के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने इसका समर्थन करते हुए कहा कि एक बेटी, एक बहन को इंसाफ मिल गया.

हालांकि उन्होंने सवाल उठाया कि कई ऐसी घटनाएं हैं जिसमें अब तक इंसाफ नहीं मिला है. चिराग पासवान ने कहा कि निर्भया कांड में अब तक न्याय का इंतजार है. प्रधानमंत्री से मांग करता हूं कि ऐसे मामलों में कडे़े कानून बनाए जाएं और समयबद्ध सुनवाई भी हो.

चिराग पासवान ने कहा कि ये प्रणाली भी ठीक नहीं कि एनकाउंटर से संतोष करना पड़े. अगर हर आरोपी के लिए यही कल्पना करने लगें कि उन्हें एनकाउंटर में मारा जाएगा फिर तो न्यायिक प्रणाली से विश्वास उठने लग जाएगा.

एनकाउंटर को लेकर केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के उठाए गए सवाल पर चिराग ने कहा कि अगर आप पुलिस पर सवाल खड़ा करते हैं तो आप पूरी सिस्टम पर सवाल खड़े करते हैं. सिस्टम और पुलिस पर मेरा विश्वास है. एनकाउंटर पर मेरी तरफ़ से सवाल नहीं है क्योंकि पुलिस पर हमें विश्वास है.

बिहार के बक्सर में हुई ठीक इसी तरह की वारदात पर एलजेपी अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री से आग्रह करता हूं कि इस तरह की घटना पर कारवाई करेंगे. सीएम पर भरोसा है कि वे कठोर कार्रवाई करेंगे. लेकिन एक बार क़ानून बन जाएगा तो सब सरकार इसका पालन करेंगे. अपराधियों में भय लाना  और डर पैदा करना ज़रूरी है.

उन्होंने राबड़ी देवी के सीएम नीतीश कुमार पर सवाल उठाने को लेकर कहा कि शायद वो अपना दौर भूल गई हैं.   नब्बे का दशक जिसे जंगलराज कहा जाता था. दूसरे पर ऊंगली उठाने से पहले अपना दौर देखें.

ये भई पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2019, 1:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर