लाइव टीवी

पटना के गांधी मैदान में 14 अप्रैल को बिहार 1st के नाम से ताल ठोकेंगे चिराग पासवान
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: February 8, 2020, 3:48 PM IST
पटना के गांधी मैदान में 14 अप्रैल को बिहार 1st के नाम से ताल ठोकेंगे चिराग पासवान
पटना के गांधी मैदान से ताल ठोकेंगे चिराग पासवान

चुनावी साल में लोजपा (LJP) ने भी ताल ठोकने का मन बना लिया है. आगामी 14 अप्रैल को चिराग पासवान के नेतृत्व में लोजपा पटना के गांधी मैदान में बिहार 1st के नाम से एक बड़ी रैली के रूप में अपनी ताकत दिखाने जा रही है. 

  • Share this:
पटना. चिराग पासवान (Chirag Paswan) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद से लोजपा में लगातार बदलाव हो रहे हैं. पहली बार चिराग के नेतृत्व में बिहार विधानसभा के चुनाव (Bihar Assembly election) के लिए लोजपा ना सिर्फ अपनी पूरी ताकत झोंक रही है बल्कि बड़ी पार्टियों के पीछे-पीछे चलनेवाली यह पार्टी पहली बार फ्रंट फुट पर लड़ने को तैयार है. चुनावी साल में आगामी 14 अप्रैल को लोजपा एक विशाल रैली कर रही है जिसका नाम है बिहार 1st. चिराग पासवान का मिशन 2020 के लिए एक नया नारा है 'बहुत हुई इधर उधर की बात अब केवल बिहार1st'. इसी नारे के साथ चिराग पासवान 2020 के चुनाव का आगाज भी करेंगे.

अप्रैल में जारी होगा लोजपा का मिशन 2020 विज़न डॉक्यूमेंट
रामविलास पासवान वाली लोजपा में चिराग के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद पार्टी का मिजाज और तेवर भी बदलने लगा है. पार्टी के एक बड़े नेता ने दावा किया है कि चिराग के नेतृत्व में पार्टी इस बार के चुनाव में फ्रंट फुट पर चुनाव लड़ेगी. भले ही पार्टी बीजेपी और जेडीयु के साथ में गठबंधन में है लेकिन पार्टी अपने स्वाभिमान और अपनी बढ़ती ताकत से कोई समझौता इस बार नहीं करेगी. चिराग पासवान के लिए 2020 का चुनाव किसी अग्निपरीक्षा से कम नहीं है. ऐसे में चिराग भी चुनाव की तैयारियों में अभी से ही जुट गए हैं.

लोजपा के मेनिफेस्टो में बेरोज़गारी, कानून व्यवस्था और पलायन

सूत्र बताते हैं कि चिराग पासवान ने मिशन 2020 के लिए अपना मेनिफेस्टो 'मिशन 2020 विजन डॉक्यूमेंट' तैयार कर लिया है. लोजपा के विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि अप्रैल महीने में ही चिराग अपनी पार्टी का मेनिफेस्टो जारी कर देंगे. चिराग के विजन डॉक्यूमेंट में बिहार के मजदूरों के पलायन के साथ-साथ आर्थिक रूप से मजबूत लोगों को भी रोकने पर जोर है. इसके अलावे लॉ एंड ऑर्डर को और बेहतर करने के लिए चिराग समूचे बिहार में एक साथ डायल 100 नंबर की शुरूआत कर सकते हैं. चिराग बेरोजगारी को लेकर भी कोई बड़ी वादा कर सकते हैं. इसके अलावा बिहार के सभी रिक्त पदों को 6 महीने के भीतर भरना भी चिराग के एजेंडे में है.

43 सीटों से कम मंजूर नहीं
14 अप्रैल की रैली से एकतरफ जहां चिराग 'मिशन 2020' का आगाज करेंगे वहीं विरोधियों के साथ-साथ अपने सहयोगियों को भी अपनी ताकत दिखाएंगे. चिराग पासवान के बेहद करीबी सूत्र ने दावा किया है कि इस बार 43 सीटों से कम में पार्टी हरगिज़ मानने को तैयार नहीं है, साथ ही पार्टी ने ये मन भी बना लिया है कि वो अपने मन के मुताबिक जहां उनकी जमीन मजबूत है वही से चुनाव लड़ेंगे. पिछली बार की तरह ऐसी सीटों पर भी कोई समझौता नहीं होगा. पार्टी की इस पर दलील है कि लोजपा का संगठन लगातार बढ़ता जा रहा है और उनकी पार्टी भी किसी से कम नहीं है.प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में आज चिराग करेंगे रैली के नाम की घोषणा
बिहार में मिशन 2020 के लिए चिराग पासवान ने अभी से ही कमर कस ली है. चिराग अपनी नई टीम के साथ शनिवार को में बैठक करेंगे. प्रदेश कार्यकारिणी के 122 सदस्यों वाली इस टीम को चिराग अपने विजन डॉक्यूमेंट की ना सिर्फ जानकारी देंगे बल्कि 14 अप्रैल को होनेवाले अपनी पार्टी की विशाल रैली के नाम का ऐलान भी करेंगे.

ये भी पढ़ें -
लालू यादव नहीं चाहते थे RJD संगठन में हो बड़ा बदलाव! पढ़ें इनसाइड स्टोरी
राहुल गांधी को तेजस्वी की नसीहत, 'डंडे-लाठी से बचें, कलम की बात करें'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 3:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर