तेजस्वी से मिले चिराग के सुर तो बोली JDU- 'नीतीश कुमार हैं दलितों के सबसे बड़े नेता'
Patna News in Hindi

तेजस्वी से मिले चिराग के सुर तो बोली JDU- 'नीतीश कुमार हैं दलितों के सबसे बड़े नेता'
चिराग पासवान और सीएम नीतीश कुमार के बीच तल्खी की खबरें सामने आ रही हैं. (फाइल फोटो)

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) भी इसी सवाल को उठा कर नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर हमला बोल रहे हैं. वे बार-बार कह रहे हैं कि चुनाव की इतनी जल्दी क्या है.

  • Share this:
पटना. 'नीतीश कुमार  (Nitish Kumar)ही दलितों के सबसे बड़े नेता हैं. सिर्फ दलित भर हो जाने से कोई दलितों का नेता नहीं हो जाता है. दलितों के लिए जितना काम नीतीश कुमार ने किया है उतना किसी नेता ने नहीं किया है'.  ये कहना है बिहार के योजना एवं विकास विभाग के मंत्री और जेडीयू के वरिष्ठ नेता महेश्वर हजारी (Maheshwar Hajari) का. दरअसल हाल के कुछ दिनो में लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) के तेवर नीतीश कुमार को लेकर तल्ख दिख रहे हैं. चिराग ने कई बार इशारों में सीएम नीतीश पर निशना साधा है. ताज़ा मामला है लोजपा का वो स्टैंड जो तेजस्वी के स्टैंड से मिलता है. बता दें कि लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस राज (Prince raj) ने बयान दिया है कि कोरोना संक्रमण (Corona Infection) का मामला जिस तरह से फैल रहा है, बिहार में इससे फिलहाल  चुनाव कराने से लोगों के स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है. उन्होंने कहा कि हमारे सांसद भी कोरोना से ग्रसित हो गए हैं. इस घड़ी में चुनाव कराना मुझे नहीं लगता है सही कदम होगा. बाकी तो चुनाव आयोग को तय करना है की वो क्या करेंगे.  क़ोरोना का हाल ये है कि मुख्यमंत्री आवास तक पहुंच चुका है.

तेजस्वी से मिल रहे चिराग के सुर

बता दें कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) भी इसी सवाल को उठा कर नीतीश कुमार पर हमला बोल रहे हैं. वे बार-बार कह रहे हैं कि चुनाव की इतनी जल्दी क्या है. जनता कोरोना से परेशान है और नीतीश जी इसके बावजूद चुनाव को लेकर जल्दीबाजी में हैं.  जाहिर है तेजस्वी यादव और लोजपा का स्टैंड एक जैसा ही है.  इसी को लेकर जेडीयू नेता महेश्वर हज़ारी ने इशारों में चिराग पासवान पर हमला बोला है.



रामविलास भी चिराग के फैसले के साथ
दरअसल सूत्र बताते हैं की चिराग पासवान जल्द से जल्द सीट बंटवारा कर लेना चाहते हैं. एनडीए में साथ ही चिराग जल्द से जल्द कॉमन मिनिमम प्रोग्राम भी बनाने की बात कह रहे हैं जिस पर जेडीयू तवज्जो देती नहीं दिख रही है. वहीं चिराग भी अड़े हुए हैं. रामविलास पासवान भी कह चुके हैं कि चिराग पासवान पार्टी के सर्वेसर्वा हैं और राष्ट्रीय अध्यक्ष भी वो जो फैसला लेंगे पार्टी को मानना है.

तेजस्वी दे चुके हैं चिराग पासवान को ऑफर

वहीं तेजस्वी यादव भी इशारों में चिराग पासवान को साथ आने का ऑफर दे चुके हैं. कांग्रेस की तरफ से अखिलेश सिंह भी चिराग को लेकर इशारा दे चुके हैं. जाहिर सी बात है ऐसे में चिराग की नाराजगी और जेडीयू का पलटवार एनडीए के लिए अच्छे संकेत नहीं है. जबकि बीजेपी की पूरी कोशिश है कि मामला जल्द से जल्द और सही तरीके से सुलझ जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading