Home /News /bihar /

पटना: बिक्रम में बच्चे की मौत से गुस्साए ग्रामीणों और पुलिस में टकराव, कई घायल

पटना: बिक्रम में बच्चे की मौत से गुस्साए ग्रामीणों और पुलिस में टकराव, कई घायल

पटना के बिक्रम में पुलिस-पब्लिक भिड़ंत में कई पुलिसकर्मी घायल

पटना के बिक्रम में पुलिस-पब्लिक भिड़ंत में कई पुलिसकर्मी घायल

पुलिस जहां उग्र लोगों पर रोड़ेबाजी और तोड़-फोड़ करने का आरोप लगा रही है वहीं कुछ पुलिसकर्मियों को ग्रामीणों ने टेम्पो का सीसा तोड़ते हुए अपने कैमरा में कैद कर लिया.

    बिहार की राजधानी पटना से सटे बिक्रम में बालू के अवैध धंधेबाजों ने पुलिस पर हमला कर दिया. इसमें लगभग छह पुलिसकर्मी घायल हो गए. सभी का इलाज स्थानीय हॉस्पिटल में कराया जा रहा है.  पुलिस ने सौ अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया है गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है.

    पुलिस जहां उग्र लोगों पर रोड़ेबाजी और तोड़-फोड़ करने का आरोप लगा रही है वहीं कुछ पुलिसकर्मियों को ग्रामीणों ने टेम्पो का सीसा तोड़ते हुए अपने कैमरा में कैद कर लिया. पुलिसकर्मियों ने पहले टेम्पो का सीसा तोड़ा फिर टेम्पो को गड्ढे में धकेलने का प्रयास भी किया.

    पुलिसकर्मियों के जख्मी होने के बाद भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. जहां पुलिसकर्मियों ने लोगों को घर मे घुस कर पिटाई की. जख्मी एएसआई उमाशंकर सिंह और आरपीएफ के हेमंत कुमार का इलाज हॉस्पिटल में कराया जा रहा है.

    ये भी पढ़ें- बिहार: तेजस्वी यादव गेहूं के खेतों में क्यों करते हैं अपनी चुनावी सभा?

    इस दौरान एएसआई ने बताया कि बालू माफिया के द्वारा पुलिस पर पथराव किया गया है. ये लोग सड़क किनारी अवैध बालू ओवरलोड का काम करते हैं.  जिसके कारण सड़क किनारे बालू जमा हो जाता है और आज की घटना भी उसी बालू पर फिसलने के कारण बच्चे की मौत हुई है.

    दरसअल बिक्रम के अंधरचोकी गांव में एन एच 98 पर एक ट्रेक्टर ने एक बच्चे को कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी. मौत के बाद  आक्रोशित ग्रमीणों ने रोड जाम कर दिया.  जब रोड जाम हटाने पुलिस पहुंची तो ग्रामीणों से पुलिस की नोक-झोंक हो गयी.

    ये भी पढ़ें- तेजस्वी के बयान पर बोली JDU- संज्ञान ले न्यायालय

    पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए जाम छुड़ाने की कोशिश की. इससे लोग पुलिस की कार्यशैली से आक्रोशित हो गए.  लोगों का कहना था कि पुलिस की मिलीभगत से ही सड़क किनारे बालू की अवैध दुकान चल रही थी. ग्रामीणों ने पुलिस से कई बार इसकी शिकायत भी की थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

    पटना संसदीय क्षेत्र के पालीगंज में पीएम मोदी का प्रोग्राम चल रहा था तो दूसरी तरफ पुलिस और आक्रोशित लोगों के बीच बिक्रम में जमकर टकराव हुआ. पीएम के प्रोग्राम के कारण पुलिसकर्मी किसी भी परिस्थिति में सड़क जाम खत्म करवाना चाह रहे थे.

     

    इनपुट- आदित्य

    ये भी पढ़ें- केसी त्यागी बोले- प. बंगाल में लालू-राबड़ी शासन जैसे हालात, EC की भूमिका पर संदेह

    Tags: Bihar News, Crime In Bihar, PATNA NEWS

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर