बिहार: CM नीतीश ने 2815 करोड़ रुपए की 77 परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने नालंदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (NMCH) में यूजी और पीजी के छात्रों के लिए 800 बेड के हॉस्टल निर्माण का शिलान्यास किया एवं इसके साथ ही अस्पताल परिसर में बने आई बैंक का भी उद्घाटन किया.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 22, 2020, 3:53 PM IST
  • Share this:
पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग (health Department) के अंतर्गत कुल 2815 करोड़ की 77 परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया. इन परियोजनाओं में सिवान, वैशाली और सीतामढ़ी जिले में मेडिकल कॉलेज का निर्माण, 12 अनुमंडलीय अस्पताल का निर्माण, 3 सदर अस्पताल अस्पताल का निर्माण, 8 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण के अलावा कई स्वास्थ्य  परियोजनाएं शामिल हैं.

इन स्वास्थ्य परियोजनाओं के अंतर्गत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज पटना सिटी के अगम कुआं स्थित नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में यूजी और पीजी के छात्रों के लिए 800 बेड के हॉस्टल निर्माण का भी शिलान्यास किया वहीं, अस्पताल परिसर में बने आई बैंक का भी उद्घाटन किया.

मुख्यमंत्री के इस उद्घाटन और शिलान्यास समारोह में उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे भी जुड़े रहे.  इस मौके पर मुख्यमंत्री ने विकास का हवाला देते हुए कहा कि वर्ष 2005 से पूर्व प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह बदहाल थी, उनका कहना था कि प्रदेशवासियों को चिकित्सकीय सेवा नहीं मिल पाती थी, लेकिन उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद ही प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं में काफी सुधार हुआ है. उनका कहना था कि आज सरकारी अस्पतालों में मरीजों को सभी प्रकार की स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध हो रही है, यही कारण है कि सरकारी अस्पतालों में मरीजों की संख्या में खासी बढ़ोतरी हुई है.



एनएमसीएच में यूजी और पीजी के छात्रों के लिए 800 बेड के हॉस्टल निर्माण के शिलान्यास पर एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ विनोद कुमार सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति विशेष आभार प्रकट करते हुए कहा कि हॉस्टल के बन जाने पर अस्पताल की कार्य क्षमता में काफी सुधार होगा.
वहीं, अस्पताल परिसर में बने आई बैंक के उद्घाटन पर उन्होंने प्रसन्नता जताते हुए कहा कि आई बैंक के उद्घाटन होने से यहां कॉर्निया ट्रांसप्लांट की सुविधा मरीजों को मिल पाएगी. अस्पताल अधीक्षक का कहना था कि कॉर्निया ट्रांसप्लांट के माध्यम से 25% नेत्रहीनों के जीवन में एक बार फिर से आंखों की रोशनी लौटाई जा सकेगी, जो एनएमसीएच के लिए एक बड़ी उपलब्धि साबित होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज