Home /News /bihar /

सीएम नीतीश के एक्शन और News 18 की खबर का असर, बिहार में कई थानों की पुलिस मार रही Raid, नहीं बचेंगे शराब माफिया !

सीएम नीतीश के एक्शन और News 18 की खबर का असर, बिहार में कई थानों की पुलिस मार रही Raid, नहीं बचेंगे शराब माफिया !

वैशाली में शराब बनाने और बेचने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है.

वैशाली में शराब बनाने और बेचने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है.

Bihar: मिली जानकारी के अनुसार पटना पुलिस की कई टीम अलग-अलग थानों में शराबबंदी कानून को तोड़ने वालो के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के मूड में है. इसी क्रम में आज कई थानक्षेत्रों में कार्रवाई की गयी है. बताया जाता है कि राजधानी पटना के साथ-साथ बिहार के अन्य जिलों में भी इसी तरह टीम बनाकर शराब कारोबारियों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

    पटना/वैशाली. बिहार में जहरीली शराब से लगातार हो रही मौतों को लेकर सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) काफी सख्त नजर आ रहे हैं. उन्होंने बीते हफ्ते अधिकारियों के साथ बैठक की थी और इसमें शामिल सभी लोगों पर सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया था. वहीं सीएम ने जनता दरबार कार्यक्रम के बाद अधिकारियों को चेतावनी दे दी थी कि लापरवाही बरतने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा. सीएम नीतीश कुमार 16 नवंबर को संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक भी करने वाले हैं. इसी बीच न्यूज 18 भी लगातार बिहार में शराबबंदी का माखौल उड़ा रही तस्वीरें को सबके सामने ला रहा है.अब ऐसे में सीएम नीतीश के एक्शन और न्यूज 18 की खबर का असर भी दिखने लगा है. तभी तो सीएम के निर्देश के बाद पटना समेत अन्य जिलों की पुलिस अब अलर्ट मोड में आ गयी है. शुक्रवार को पटना के कई थानों में पुलिस ने एक साथ छापेमारी कर बड़ी मात्रा में शराब बरामद की है. राजधानी के आशियाना नगर इलाके में भारी संख्या में फोर्स के साथ पुलिस की टीम ने धावा बोला है. बताया जाता है कि पुलिस को यहां बड़ी लीड मिली थी जिसके बाद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए शराब बरामदगी की है.
    मिली जानकारी के अनुसार पटना पुलिस की कई टीम अलग-अलग थानों में शराबबंदी कानून को तोड़ने वालो के खिलाफ बड़ी कार्रवाई के मूड में है. इसी क्रम में आज कई थानक्षेत्रों में कार्रवाई की गयी है. बताया जाता है कि राजधानी पटना के साथ-साथ बिहार के अन्य जिलों में भी इसी तरह टीम बनाकर शराब कारोबारियों के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा. बता दें, आज डीजीपी एसके सिंघल ने भी सभी जिलों के एसपी के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की और सभी से उनके जिलों में शराबबंदी कानून का सख्ती से पालन कराये जाने को लेकर चर्चा भी की. डीजीपी की यह बैठक 16 नवंबर को सीएम के साथ होने वाली समीक्षा बैठक के लिहाज से भी बड़ी महत्वपूर्ण मानी जा रही है.
    न्यूज18 की खबर का दिखा असर, वैशाली में भी हुई कार्रवाई
    सीएम की एक्शन का असर सिर्फ राजधानी पटना नहीं बल्कि दूसरे जिलों में भी देखने को मिल रहा है. न्यूज18 के खबर दिखाये जाने के बाद शुक्रवार को वैशाली में शराब बनाने और बेचने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने देसी शराब का धंधा करने वाले 1 दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में शराब जब्त किया है और कई शराब भट्टियों को भी जब्त किया है. पुलिस की इस कार्रवाई से शराब माफियाओं के बीच भी हड़कंप मचा हुआ है. बता दें, न्यूज18 ने आज प्रमुखता से इस खबर को दिखाया था कि वैशाली जिले में कैसे शराब बेचने और पिलाने का धंधा चल रहा है और बच्चों को भी इस धंधे में शामिल कर लिया गया है. ऐसे में इस मामले में न्यूज18 की खबर का भी असर हुआ है.

    भूसे के संग लायी जा रही थी 50 लाख की शराब
    पुलिस की कार्रवाई बीते मंगलवार को भी देखने को मिली थी, जब पुलिस ने भूसे की आड़ में झारखंड से बिहार लायी जा रही शराब की बड़ी खेप को बरामद किया था. पटना से बांका गयी पुलिस की विशेष टीम ने धान के भूसे के आड़ में बड़े पैमाने पर हो रहे शराब तस्करी के मामले का भंडाफोड़ किया था. पटना से आयी विशेष टीम ने रजौन पुलिस के सहयोग से हरियाणा नंबर की एक ट्रक से शराब की बड़ी खेप जो थाना क्षेत्र पार कर चुकी थी. लेकिन, पटना से गयी विशेष टीम की चौकसी के चलते रजौन थाना क्षेत्र के धौनी होटल के समीप से शराब लदे ट्रक को जब्त कर ट्रक चालक को भी गिरफ्तार कर लिया गया था. जब्त शराब की कीमत 50 लाख रुपये बताई जा रही थी.

    Tags: Bihar Liquor Smuggling, Bihar police, CM Nitish Kumar, Liquor Mafia, Poisonous liquor case

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर