Bihar Politics: कांग्रेस के विधायक भी आएंगे CM नीतीश के साथ? जानें क्या मिल रहे सियासी संकेत

AIMIM के विधायकों की सीएम नीतीश से मुलाकात के बाद बढ़ी सियासी हलचल.

AIMIM के विधायकों की सीएम नीतीश से मुलाकात के बाद बढ़ी सियासी हलचल.

Bihar Politics: JDU प्रवक्ता अजय आलोक कहते हैं, नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के साथ हर दल के नेता काम करना चाहते हैं, क्योंकि उन्हें पता है कि जनता के विकास के लिए ईमानदारी से सीएम नीतीश के साथ ही काम किया जा सकता है.

  • Share this:
पटना. नई सरकार बनने के बाद भी बिहार में सियासी उथल-पुथल का दौर थम नहीं रहा है. खास तौर पर कम विधायकों वाली पार्टियों के नेताओं-विधायकों का सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से मिलना काफी कुछ इशारा कर रहा है. हाल में ही बसपा विधायक मोहम्मद जमां खान (BSP MLA Mohammad Zaman Khan) ने जेडीयू जॉइन कर लिया. निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह ने भी अपना समर्थन दिया और लोजपा के विधायक राज कुमार सिंह भी सीएम नीतीश से मिल उन्हें विकास पुरुष बता चुके हैं. गुरुवार को असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM के सभी पांचो विधायकों की नीतीश कुमार से मुलाक़ात के बाद बिहार में कयासबाजियों का सिलसिला  तेज हो गया है कि ये भी पाला बदलने वाले हैं. इसके साथ ही एक और चर्चा शुरू हो गई है कि क्या अब अगली बारी कांग्रेस के विधायकों की है?

सूत्र बताते हैं कि JDU अंदर ही अंदर अपने विधायकों की संख्या बढ़ाने में लगी हुई है. एक-एक करके जिस तरह से ग़ैर महागठबंधन विधायकों का नीतीश कुमार से मिलना हो रहा है, निगाहें कांग्रेसी विधायकों पर टिक गई हैं. सूत्र ये भी बताते हैं कि कई कांग्रेसी विधायक JDU के सम्पर्क में भी हैं, लेकिन जितनी संख्या विधायकों की चाहिए उतनी संख्या पूरी हो नहीं पाई है. दरअसल, दलबदल कानून के दायरे से बाहर रहने के लिए कांग्रेस के कम से कम 13 विधायक एक साथ होने चाहिए.

जेडीयू के नेता भी करते हैं निष्ठा की बात

JDU प्रवक्ता अजय आलोक कहते हैं, नीतीश कुमार के साथ हर दल के नेता काम करना चाहते हैं, क्योंकि उन्हें पता है कि सीएम नीतीश के साथ काम करके ही जनता के विकास के लिए ईमानदारी से काम किया जा सकता है. साथ ही उनका राजनीतिक भविष्य भी सुरक्षित रहेगा. अगर कल की तारीख में कांग्रेसी विधायक भी नीतीश कुमार के प्रति निष्ठा दिखा दें तो कोई आश्चर्य की बात नहीं है.
कांग्रेस ने अटकलों को किया खारिज

हालांकि, कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ऐसी अटकलबाजियों को सिरे से खारिज करते हुए कहते हैं कि कांग्रेसी MLA एकजुट हैं. इस वक़्त नीतीश कुमार और भाजपा के बीच शह और मात का खेल चल रहा है और नीतीश अपने विधायकों की संख्या बढ़ाना चाहते हैं, लेकिन वो अपने मंसूबे में सफल नहीं होंगे.

AIMIM विधायकों ने की नीतीश की तारीफ



कांग्रेस नेता के दावे के इतर राजनीतिक स्थितियां बता रही हैं कि जल्द ही बिहार की सियासत में कुछ बड़ा होने वाला है. दरअसल, इसके संकेत AIMIM के विधायक शाहनवाज़ ने भी दिए हैं. गुरुवार को ओवैसी की पार्टी के सभी पांचों विधायक जब नीतीश कुमार से मुलाक़ात कर बाहर निकले तो NEWS 18 से बातचीत करते हुए नीतीश कुमार की काम की तारीफ की.

जेडीयू के नेता दे रहे ये संकेत

जब AIMIM विधायक शाहनवाज से ये सवाल किया गया कि क्या आने वाले समय में MIM के विधायक नीतीश कुमार के साथ जा सकते हैं, तो कहा कि फ़िलहाल ऐसा नहीं है, क्योंकि नीतीश कुमार भाजपा के साथ हैं, लेकिन राजनीति संभावनाओं का खेल है. कल क्या हो कौन जानता है. दूसरी ओर JDU MLC ख़ालिद अनवर MIM के विधायकों का नीतीश कुमार से मुलाक़ात के बाद JDU में स्वागत करने की बात कहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज