अपना शहर चुनें

States

पटना की सड़कों पर उतर कर नीतीश ने लिया बाढ़ का जायजा, लोगों से की संयम बरतने की अपील

बिहार की राजधानी पटना में लगातार हो रही बारिश के कारण लोगों को सुरक्षित स्‍थान पर पहुंचाने के लिए सड़कों पर नाव तक उतारना पड़ा.
बिहार की राजधानी पटना में लगातार हो रही बारिश के कारण लोगों को सुरक्षित स्‍थान पर पहुंचाने के लिए सड़कों पर नाव तक उतारना पड़ा.

बिहार (Bihar) के 15 जिलों में बाढ़ को लेकर हाई अलर्ट किया गया है. पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश से अब तक बिहार में 23 लोगों की मौत हुई है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 29, 2019, 5:14 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में बारिश (Heavy Rainfall) का कहर लगातार जारी है. पटना (Patna) की सड़कों पर जल प्रलय आने के बाद अब राहत और बचाव की कवायद तेज कर दी गई है. इस कड़ी में जहां सड़कों पर एनडीआरएफ (NDRF) और एसडीआरएफ (SDRF) की टीमें लोगों को रेसक्यू करती दिखीं तो वहीं सीएम (CM) नीतीश कुमार ने भी बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया. रविवार की शाम नीतीश कुमार ने अपने अधिकारियों के साथ पहले उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की फिर पटना की सड़कों पर उतर कर बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया. सीएम ने शहर के 90 फीट रोड और बस स्टैंड वाले इलाके की स्थिति का जायजा लिया.

हालात गंभीर होने की आशंका

CM नीतीश कुमार की इस अहम बैठक में मुख्य सचिव, आपदा विभाग के प्रधान सचिव, DGP समेत आपदा विभाग के अधिकारी भी थे, जिनके साथ सीएम ने एक घंटे तक मंत्रणा की. बैठक में NDRF-SDRF आपदा विभाग के अधिकारियों को लोगों की मदद करने का निर्देश दिया गया. इसके लिए जिला प्रशासन को सहयोग करने को कहा गया है. सीएम ने बैठक के दौरान कहा कि किसी भी हाल में आवश्यक चीजों की कमी नहीं होने दी जाएगी. इस दौरान सीएम ने राज्य के तटबंधों के हालात की भी जानकारी ली. बैठक में इस बात की भी जानकारी दी गई कि आपदा में मृत लोगों के परिजनों को आपदा द्वारा निर्धारित राशि दी जाएगी. CM ने बैठक के दौरान आशंका जताई कि अगर बारिश की यही स्थिति रही तो पटना के ऊपरी इलाके भी पूरी तरह से जलमग्न हो जाएंगे.



मंत्री ने बताई वजह
नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा ने कहा कि इस बार ज़्यादा बारिश होने की वजह से पटना में जल जमाव के हालत हो गए हैं. उन्होंने बताया कि पुनपुन का जलस्तर बढ़ जाने की वजह से पटना में जल जमाव के हालात पैदा हो गए हैं. नाले का निर्माण भी होने से जल जमाव हुआ है. मंत्री ने कहा कि पटना में दो से तीन दिन में बरसात का पानी निकाल लिया जाएगा.

इनपुट- आनंद अमृतराज/कुलभूषण गोपाल

ये भी पढ़ें- लगातार हो रही बारिश से पटना में 'जल प्रलय' की स्थिति, कई ट्रेनें रद्द

ये भी पढ़ें- बिहार में भारी बारिश से अबतक 23 लोगों की मौत, बंद किए गए पटना के स्कूल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज