Home /News /bihar /

विधानसभा कैंपस में मिली शराब की बोतल, तेजस्वी ने कहा-नीतीश हैं गृह मंत्री, सीएम ने गुस्से में कहा-बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

विधानसभा कैंपस में मिली शराब की बोतल, तेजस्वी ने कहा-नीतीश हैं गृह मंत्री, सीएम ने गुस्से में कहा-बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

विधानसभा परिसर में शराब की बोतलें मिलने पर सीएम नीतीश कुमार ने जाहिर की अपनी नाराजगी. (फाइल फोटो)

विधानसभा परिसर में शराब की बोतलें मिलने पर सीएम नीतीश कुमार ने जाहिर की अपनी नाराजगी. (फाइल फोटो)

Bihar: सीएम नीतीश ने बिहार विधानसभा परिसर में शराब की बोतलें मिलने के सवाल पर कहा कि विधानसभा कैम्पस में शराब की बोतल मिली है तो यह बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है. जो भी गड़बड़ी कर रहा है उसे छोड़ा नहीं जा सकता है.

पटना. शीतकालीन सत्र में विधानसभा (Bihar Assembly) के कार्यवाही के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने विधानसभा अध्यक्ष से पूछा कि जब बिहार में शराबबंदी कानून लागू है, इतने कड़े नियम बनाए गए हैं, बावजूद इसके विधानसभा कैंपस में शराब की बोतल कैसे मिलती है. तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि उन्होंने खुद जाकर देखा है कि विधानसभा कैंपस में शराब की बोतल है. तेजस्वी यादव के यह कहने के बाद सदन के अंदर हंगामा शुरू हो गया. हंगामा होते देख जदयू के वरिष्ठ नेता और संसदीय कार्य मंत्री विजय चौधरी उठे और उन्होंने कहा कि अच्छी बात है कि नेता प्रतिपक्ष भी शराबबंदी को लेकर काफी गंभीर है और उन्हें इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने इस मामले को सदन में उठाया. लेकिन विजय चौधरी के यह बोलने के बावजूद सदन में हंगामे का दौर जारी रहा तेजस्वी यादव लगातार यह सवाल उठा रहे थे और कह रहे थे कि शराबबंदी का क्या फायदा? नीतीश कुमार के पास गृह विभाग भी है वह इस पूरे मामले पर जवाब क्यों नहीं देते हैं? तेजस्वी यादव के लगातार बोलने पर आखिरकार नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) सदन के अंदर खड़े हुए और उन्होंने विधानसभा कैंपस के अंदर शराब की बोतल मिलने पर गहरी नाराजगी जाहिर की.

वहीं सीएम नीतीश ने बिहार विधानसभा परिसर में शराब की बोतलें मिलने के सवाल पर कहा कि विधानसभा कैम्पस में शराब की बोतल मिली है तो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. जो भी गड़बड़ी कर रहा है उसे छोड़ा नहीं जा सकता है. डीजीपी और चीफ सेक्रेटरी से इसकी जांच कराई जानी चाहिए. सीएम नीतीश ने विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा से आग्रह किया कि आप जांच का आदेश दें, पूरी गंभीरता से जांच होगी, जो भी दोषी होंगे उन्हें किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा.

बिहार विधानसभा में सीएम नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव को अपने अंदाज में जवाब दिया है. दरअसल मंगलवार को विधानसभा की कार्यवाही के दौरान जब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार सीएम नीतीश कुमार और राज्य सरकार पर सवाल उठा रहे थे, तो सीएम ने उन्हें साफ-साफ अपना जवाब देते हुये कहा कि आप सोशल मीडिया में पत्र लिखते हैं. तेजस्वी ने जब सीएम से पत्र का जवाब नहीं मिलने की बात कही तो सीएम ने कहा कि सोशल मीडिया में कुछ भेजिएगा तो हम नहीं पढ़ेंगे, अगर आप पत्र लिखिएगा तब न पढ़ेंगे. सीएम ने तेजस्वी को नसीहत देते हुये कहा कि आप हमको डायरेक्ट पत्र भेज दीजिए, हम पढ़ लेंगे. लेकिन, पत्र मुझे मिलने से पहले मीडिया में लीक हो जाता है.
बता दें, आज सदन की कार्यवाही के दौरान नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सदन में शराबबंदी के और विधानसभा परिसर में शराब की बोतले मिलने का मुद्दा उठाया. तेजस्वी ने कहा कि इतने सुरक्षा घेरे के बावजूद विधान सभा कैंपस में शराब की बोतल कैसे मिलती है, मुख्यमंत्री होम मिनिस्टर भी हैं, उन्हें नैतिकता के नाम पर इस्तीफा दे देना चाहिए. आखिर ऐसे में शराबबंदी को लेकर शपथ लेने का क्या मतलब है. तेजस्वी ने कहा कि सिर्फ छोटी मछली पर कार्रवाई हो रही है.
इधर विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने विधानसभा की सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया है. वहीं उन्होंने सदन में तेजस्वी यादव के बयान को लेकर तेजस्वी से कहा कि आप भी सचेत रहिए कहीं आपके आवास से भी शराब की बोतलें न निकल जाए. उन्होंने तेजस्वी को नसीहत देते हुये कहा कि आज आप विपक्ष में बैठे है लेकिन जब शराबबंदी हुआ था आप सत्ता में थे. अगर आप आज भी शराब बंदी के पूरी तरह से समर्थन में रहेंगे तो शराब बंदी सफल होगी.

Tags: Bihar News, Bihar politics, CM Nitish Kumar, PATNA NEWS, Tejashwi Yadav

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर