अपना शहर चुनें

States

CM नीतीश ने मानी चिराग की बात! विधायकों से कहा- सात निश्चय योजनाओं की गड़बड़ियां बताएं

नीतीश कुमार
नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि नल-जल का कनेक्शन 89 प्रतिशत घरों में पहुंच चुका है. उन्होंने विधायकों से कहा कि नल-जल समेत सात निश्चय की किसी भी योजना में आप गड़बड़ी या कमी देखते हैं तो सरकार को बताएं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2020, 7:57 AM IST
  • Share this:
पटना. नई सरकार के गठन के बाद बिहार विधान मंडल  (Bihar Legislature) के दोनों सदन में पहले सत्र का आखिरी दिन व्यक्तिगत टीका-टिप्पणियों में बीता. इस दौरान सदन में काफी शोर-शराबा व हंगामा होता रहा. इसके बाद सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई. सत्र समापन से पहले राज्यपाल फागू चौहान (Governor Fagu Chauhan) के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर हुए वाद-विवाद के बाद सरकार के जवाब में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने कहा कि बिहार में विकास और रोजगार के लिए नई कार्ययोजना लाएंगे. हम सभी आपस में बात कर आगे की कार्ययोजना तय करेंगे और फिर उस पर काम शुरू करेंगे और अपनी कार्ययोजना का एलान भी करेंगे.

मुख्यमंत्री के संबोधन के दौरान विपक्षी सदस्यों ने कई बार टीका-टिप्पणी भी की, पर मुख्यमंत्री ने अपनी पूरी बात कही. मुख्यमंत्री ने कहा कि शुरुआत से ही हमने हर तबके और सभी इलाके विकास के लिए काम किया है और आगे भी सभी काम करते रहेंगे. जब तक हम हैं तब तक किसी पर अन्याय नहीं होने देंगे और अपराध बर्दाश्त नहीं करेंगे.

सीएम नीतीश ने कहा कि सदन का सत्र खत्म हो गया है अब राज्य में चल रही योजनाओं और विकास के एक-एक कार्य की समीक्षा करेंगे. केंद्र की पूरी मदद मिल रही है. हम बिहार को ऊंचाइयों तक पहुंचाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि धान खरीद का आदेश दे दिया गया है. इस साल 30 लाख टन धान खरीद की संभावना है. सीएम ने कहा कि आज घर-घर बिजली पहुंच चुकी है और बिहार में विकास की रफ्तार और बढ़ाई जाएगी.



मुख्यमंत्री ने कहा कि नल-जल का कनेक्शन 89 प्रतिशत घरों में पहुंच चुका है. उन्होंने विधायकों से कहा कि नल-जल समेत सात निश्चय की किसी भी योजना में आप गड़बड़ी या कमी देखते हैं तो सरकार को बताएं. गड़बड़ी करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी. बता दें कि सात निश्चय योजनाओं में भ्रष्टाचार का मुद्दा लगातार उठता रहा है. इसको लेकर लोजपा प्रमुख चिराग पासवान और सीएम नीतीश कुमार के बीच काफी तल्खी बढ़ गई थी. हालांकि नीतीश सरकार ने अप्रत्यक्ष रूप से ही सही इसकी गड़बड़ियों को मान लिया है.
बहरहाल नीतीश कुमार ने आगे अपनी बात रखते हुए विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि सात निश्चय वर्ष 2015 में बना तो मेरे साथ कौन लोग थे. इसके बाद एनडीए की सरकार बनी तब भी सात निश्चय के एक भी काम को हमने नहीं छोड़ा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना कई देशों में फिर बढ़ रहा है. देश के कई राज्यों में भी यह फैल रहा है. इसके प्रति हमेशा सचेत और सजग रहने की जरूरत है. कोरोना के वैक्सीन पर काम चल रहा है. उम्मीद है जल्द ही यह सफल होगा.  बड़े पैमाने पर राज्य के लोगों का भी टीकाकरण करने की विस्तृत तैयारी चल रही है. कैसे टीका आएगा और कैसे सभी तक पहुंचेगा, इस पर काम हो रहा है. सबसे पहले चिकित्सा कर्मियों का टीकाकरण होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज