नीतीश कुमार के निशाने पर विपक्ष, बोले-विधानसभा में जो हुआ, सही नहीं था, पता नहीं विपक्ष को कौन गाइड कर रहा

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

Nitish Kumar Statement: बिहार विधानसभा में मंगलवार को हंगामे पर सीएम नीतीश कुमार ने पूरे विपक्ष को निशाने पर लिया. बुधवार को विपक्ष की गैरहाजिरी में विधानसभा के उपाध्यक्ष का चुनाव करवाया गया और महेश्वर हजारी को चुना गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 2:56 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विपक्ष को निशाने पर लिया है. बुधवार को सदन की कार्यवाही के दौरान नीतीश कुमार ने मंगलवार को विधानसभा परिसर में हुई घटना पर अपनी बातों को रखा. नीतीश कुमार ने कहा कि कल सदन में जो कुछ भी हुआ वह सही नहीं था. विधानमंडल के दोनों सदन पहले दिन से ही काफी अच्छे से चल रहे थे, लेकिन पता नहीं कल ऐसा क्यों हुआ. उन्होंने विपक्ष पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि पता नहीं कैसी मानसिकता है और विपक्ष क्या करना चाहता है, पता नहीं, कौन उन्हें गाइड कर रहा है, सुझाव दे रहा है.

नीतीश ने कहा कि लोकतंत्र में सभी को अपनी बात कहने का अधिकार है, लेकिन सदन के खत्म होने के समय पता नहीं क्या हो गया. सब ने देखा सदन में कौन सबसे ज्यादा बोलता है. तेजस्वी यादव पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि पता नहीं उन्हें कौन ऐसा सुझाव दे रहा है. बिहार पुलिस के अधिनियम का जिक्र करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि कानून कोई भी बनाता है, उस पर चर्चा होती है, लेकिन सदन में आखिरी समय ऐसा क्यों हुआ यह समझ से परे है.

Youtube Video


महेश्वर हजारी विधानसभा उपाध्यक्ष चुने गए
इससे पहले बुधवार को बिहार के पूर्व मंत्री महेश्वर हजारी को विधानसभा का उपाध्यक्ष चुन लिया गया. विपक्ष की अनुपस्थिति में भी विधानसभा में वोटिंग कराई गई, जिसमें उनके पक्ष में 124 मत मिले, जिसके बाद सदन में सर्वसम्मति से महेश्वर हजारी को उपाध्यक्ष चुन लिया गया. नीतीश कुमार ने कहा कि महेश्वर हजारी ने जनता के बीच में रहकर जनता की सेवा की है. जो भी निर्वाचन हुआ है, उसकी संख्या सामने आने से जीत और बड़ी हो जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज