लाइव टीवी

नीतीश कुमार को बिना जनादेश के NDA में वापसी नहीं करनी चाहिए थीः प्रशांत किशोर

News18.com
Updated: March 8, 2019, 11:19 PM IST
नीतीश कुमार को बिना जनादेश के NDA में वापसी नहीं करनी चाहिए थीः प्रशांत किशोर
प्रशांत किशोर और नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

इंटरव्यू में चुनावी रणनीतिकार किशोर ने कहा कि नेताओं का पाला बदलना कोई नई बात नहीं है. उन्होंने कहा, ‘आप चंद्रबाबू नायडू, नवीन पटनायक और डीएमके जैसी पार्टियों को देखें. हमारे पास वीपी सिंह सरकार का भी उदाहरण है.’

  • News18.com
  • Last Updated: March 8, 2019, 11:19 PM IST
  • Share this:
चुनावी रणनीतिकार और जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने कहा है कि वह बीजेपी के साथ दोबारा गठजोड़ करने के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के तरीके से सहमत नहीं हैं. उन्होंने कहा कि महागठबंधन से निकलने के बाद एनडीए में शामिल होने के लिए जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार को आदर्श रूप से नए सिरे से जनादेश हासिल करना चाहिए था.

एक न्यूज पोर्टल के साथ बातचीत में प्रशांत किशोर ने ये बातें कहीं. उनका यह इंटरव्यू शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद उनके बयान से जेडीयू में नाराजगी है. इंटरव्यू में चुनावी रणनीतिकार किशोर ने कहा कि नेताओं का पाला बदलना कोई नई बात नहीं है. उन्होंने कहा, ‘आप चंद्रबाबू नायडू, नवीन पटनायक और डीएमके जैसी पार्टियों को देखें. हमारे पास वीपी सिंह सरकार का भी उदाहरण है.’

जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा,  ‘महागठबंधन से अलग होने का नीतीश का फैसला सही था या नहीं इसे मापने का कोई पैमाना नहीं है. उन्होंने कहा, ‘जो लोग नीतीश कुमार में पीएम नरेंद्र मोदी को चुनौती देने की संभावना देखते थे, वे इस कदम से निराश हुए लेकिन जिन लोगों की यह राय थी कि उन्होंने मोदी से मुकाबला करने के उत्साह में शासन से समझौता करना शुरू कर दिया, वे सही महसूस करेंगे.’

प्रशांत किशोर ने कहा, ‘बिहार के हितों को ध्यान में रखते हुए मेरा मानना है कि यह सही था लेकिन जो तरीका अपनाया गया उससे मैं सहमत नहीं हूं. एनडीए में वापसी का फैसला करने पर उन्हें आदर्श रूप में नया जनादेश हासिल करना चाहिए था’.

वहीं, जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के बयान पर आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र ने कहा कि प्रशांत किशोर का बयान हमारे आरोपों को स्वीकार करने के समान है. नीतीश को महागठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर जनादेश मिला था. नीतीश कुमार का एनडीए में चले जाना महागठबंधन की पीठ में छुरा घोंपने के समान है.

जेडीयू नेता नीरज कुमार ने कहा, 'प्रशांत किशोर राजनीति में अभी नए-नए आए हैं. प्रशांत किशोर जनादेश लेने पर प्रवचन दे रहे हैं. उनका प्रवचन तब कहां था, जब पार्टी ने बीजेपी के साथ गठजोड़ करने का फैसला किया'.

ये भी पढ़ें-
Loading...

कहीं चुनावों में भारी न पड़ जाए बीजेपी का अंतर्विरोध, दो दर्जन सांसद-विधायकों में है तनातनी

जब योगी के मंत्री के सामने BJP विधायक को जूतों से पीटने लगे पार्टी के ही सांसद

योगी के मंत्री के सामने विधायक ने कहा- जूता निकालें, तो सांसद ने उन्हें जूते से जमकर पीटा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 8, 2019, 9:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...