चुनाव परिणाम के बाद पहली बार बोले नीतीश- NDA की बैठक में तय होगा अगले CM का नाम, जो निर्णय होगा मानेंगे

पटना में मीडिया से बात करते हुए सीएम नीतीश कुमार
पटना में मीडिया से बात करते हुए सीएम नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि मुझपर जान बूझकर प्रहार किया गया है. हमलोगों ने साथ मिलकर एनडीए (NDA) के लिए काम किया है बावजूद इसके भ्रम पैदा किया गया. यह पता लगाना बीजेपी का काम है कि यह कैसे हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 13, 2020, 8:53 PM IST
  • Share this:
पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) विधानसभा चुनाव के बाद नवनिर्वाचित पार्टी विधायकों और कार्यकर्ताओं से मिलने JDU दफ़्तर पहुंचे.  इसके बाद उन्होंने मीडिया से बात की और कहा कि लोगों ने एनडीए को जनादेश दिया है और हम सरकार बनाएंगे. उन्होंने कहा कि अभी विधानसभा भंग किए जाने की प्रक्रिया बाकी है और अभी शपथ ग्रहण की तारीख तय नहीं की गई है.. उन्होंने जनता को मालिक बताते हुए कहा कि एनडीए की बैठक में निर्णय लिया जाएगा कि कौन विधानमंडल दल का नेता होगा. इससे पहले शुक्रवार को चारों घटक दल के लोग एक साथ बैठेंगे और बातचीत करेंगे. इसके बाद  फिर औपचारिक मीटिंग करेंगे और इसके बाद विधानमंडल दल की बैठक होगी फिर चीजें तय की जाएंगी.

सीएम नीतीश ने कहा कि हम लोग जनता को सर्वोपरि मानते हैं और हम लोगों ने काम किया. जनता के बीच गए जनता मालिक है, उन्होंने जो फैसला दिया वह हमें मंजूर है. एनडीए के पास बहुमत है और सरकार चलाने में कोई दिक्कत नहीं आएगी. एनडीए की बैठक में जो भी निर्णय होगा हमलोग उसको मानेंगे. सीएम नीतीश ने कहा कि हमलोगों ने समाज के हर वर्ग की सेवा की है. भाईचारे का माहौल तैयार किया है और अपने शासनकाल में कभी भी कोई दंगा-फसाद नहीं होने दिया. क्राइम, करप्शन और कम्यूनिज्म से समझौता नहीं करेंगे.





सीएम नीतीश ने कहा कि कुछ लोगों ने हम लोगों के बारे में भ्रम फैलाया है और वे उसमें कुछ हद तक कामयाब हुए और हमारा नुकसान भी हुआ. यह बीजेपी को पता लगाना है कि आखिर यह कैसे हुआ. कई लोगों ने वह भी प्रचार किया और झूठा दावा किया जो हो ही नहीं सकता. हमने तो लोगों की सेवा की है और हमेशा जनता का आदेश ही माना है.
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोग एक-एक सीटों के चुनाव परिणाम का अध्ययन कर रहे हैं और कई सीटों  पर यह बात सामने आई है कि हमें जानबूझकर नुकसान पहुंचाया गया है. हालांकि भाजपा को भी कुछ नुकसान हुआ है, लेकिन जेडीयू को अधिक नुकसान हुआ है. सीएम नीतीश ने उनके रिटायरमेंट की बात को लेकर कहा कि वह तो हर चुनावी सभा में  अंत भला तो सब भला बोलते रहे हैं.

चुनाव परिणाम के बाद पहली बार नीतीश कुमार से मुलाकात करने वालों में सांसद आरसीपी सिंह, विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी, मंत्री संजय झा शामिल थे. इस दौरान जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह एवं कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी भी मौजूद रहे. इनके अलावा मंत्री श्रवण कुमार भी मौके पर उपस्थित थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज