Home /News /bihar /

MHA के दुकानें खोलने की गाइडलाइन पर बिहार में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की मीटिंग, CM नीतीश लेंगे निर्णय

MHA के दुकानें खोलने की गाइडलाइन पर बिहार में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की मीटिंग, CM नीतीश लेंगे निर्णय

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  (फाइल फोटो)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

क्राइसिस मैनजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) की होने वाली इस बैठक में डीजीपी, आपदा प्रबंधन के प्रधान सचिव और मुख्य सचिव के साथ अन्य आला अधिकारी बैठक में शामिल रहेंगे. मीटिंग के बाद सीएम नीतीश कुमार को बैठक के नतीजे को लेकर ब्रीफ किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...
    पटना. शुक्रवार की देर रात को केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) ने डिजास्टर मैनेजमेंट ऐक्ट 2005 के तहत 15 अप्रैल को जारी अपने आदेश में संशोधन करते हुए नया आदेश जारी किया है. इस बदलाव के तहत अब गैरजरूरी सामानों की दुकानों को भी कुछ शर्तों के साथ खोलने की इजाजत दी है. हालांकि इसको लेकर आम लोगों में अब भी असमंजस की स्थिति है और राज्य सरकारों के साथ जिला प्रशासन के निर्देशों का इंतजार किया जा रहा है. गृह मंत्रालय की इसी नई गाइडलाइन पर बिहार में एक बड़ी बैठक शाम 5 बजे होगी.

    क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बड़ी बैठक

    क्राइसिस मैनजमेंट ग्रुप (Crisis Management Group) की होने वाली इस बैठक में डीजीपी, आपदा प्रबंधन के प्रधान सचिव और मुख्य सचिव के साथ अन्य आला अधिकारी बैठक में शामिल रहेंगे. मीटिंग के बाद सीएम नीतीश कुमार को बैठक के नतीजे को लेकर ब्रीफ किया जाएगा और फिर सीएम आगे के लिए निर्णय लेंगे.

    डीजीपी ने दिए ये संकेत

    इस बीच डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि केंद्र के गाइडलाइन के साथ ही लॉकडाउन का भी पालन किया जाएगा. डीजीपी के बयान के बाद माना जा रहा है कि बिहार सरकार बीच का रास्ता निकाल सकती है.

    केंद्र ने जारी की नई गाइडलाइन

    नई गाइडलाइन के तहत ग्रामीण इलाकों में सभी दुकानें खुली रहेंगी और शहरी इलाकों में सभी स्टैंडअलोन दुकानें, आवासीय कॉलोनियों की पास की दुकानें और रेजिडेंशल कॉम्पलेक्सों के भीतर स्थित दुकानों को खोले जाने की की बात कही गई है. हालांकि शॉपिंग मार्केट, मार्केट कॉम्पलेक्स और शॉपिंग मॉल्स को इजाजत नहीं है.

    यहां जारी रहेंगे प्रतिबंध

    इसके साथ ही ये भी निर्देश जारी किए गए हैं कि हॉटस्पॉट्स और कंटेनमेंट जोन्स में गैरजरूरी सामानों की दुकानें अब भी नहीं खुलेंगी. वहींआदेश में स्पष्ट तौर पर लिखा गया है कि शॉप्स ऐंड इस्टेब्लिशमेंट ऐक्ट के तहत विभिन्न राज्यों में रजिस्टर्ड दुकानों को ही खुलने की इजाजत है. जो दुकानें संबंधित राज्य में इस कानून के तहत पंजीकृत नहीं हैं, वे नहीं खुलेंगी.

    चैंबर ऑफ कॉमर्स ने कही ये बात

    बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष पीके अग्रवाल ने कहा कि एक व्यापारी होने के नाते हम सरकार के फैसले से खुश हैं, पर केंद्र की गाइडलाइन के बाद राज्य सरकार को भी फैसला लेना है. इसके बाद जिला स्तर पर डीएम को ढील देने या न देने के निर्णय लेने का अधिकार है. ऐसे में हम सरकार और जिलाधिकारियों के सभी गाइडलाइन को मानेंगे.

    वहीं पटना नगर आयुक्त हिमांशु शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार पटना के डीएम जो भी दिशा निर्देश जारी करेंगे, वही हम भी मानेंगे. फिलहाल नई गाइडलाइन का इंतजार किया जा रहा है.

    ये भी पढ़ें


    COVID-19: बिहार में 5 दिन में बढ़े ढाई गुना से अधिक कोरोना मरीज, 20 जिलों तक फैला दायरा




    Lockdown: केंद्र की गाइडलाइन जारी मगर पटना को फिलहाल नहीं मिलेगी राहत, DM ने कही ये बात

    Tags: Bihar News, Corona Virus, COVID 19, Lockdown, PATNA NEWS

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर