मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का लक्ष्य - बिहार में 6 करोड़ वयस्कों को 6 महीने में लगेगा कोरोना का टीका

सीएम नीतीश कुमार ने बिहार में कोरोनारोधी टीकाकरण के लिए छह महीने का लक्ष्य तय किया. (फाइल फोटो)

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में अब तक कुल 1 करोड़ 16 लाख 46 हजार 119 लोगों को पहले डोज का टीका लगाया जा चुका है, जबकि 22 लाख 5 हजार 440 लोगों को दूसरा डोज दिया जा चुका है.

  • Share this:
पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने ‘6 करोड़ वयस्कों को 6 माह में लगेगा कोरोना का टीका’ अभियान की शुरुआत की. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में कोरोना से बचाव को लेकर बड़े पैमाने पर काम किया गया है. स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ अन्य विभागों ने भी इसमें सहयोग दिया है. कोरोना संक्रमण (corona infection) के मामले में अभी बिहार देश में 21वें स्थान पर है, जबकि जनसंख्या के मामले में पूरे देश में तीसरे स्थान पर. कोरोना को लेकर लोगों को जागरूक करने की कोशिश लगातार की जा रही है. इसका अच्छा परिणाम सामने आ रहा है.

टीकाकरण के लिए 1,000 करोड़ रुपये आवंटित

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मामला चाहे हेल्थकेयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर के टीकाकरण का हो या 45 वर्ष से ऊपर के आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण का. हमलोगों ने इसके लिए तेजी से काम किया है. केंद्र सरकार ने जब कहा कि 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए टीकाकरण के लिए राज्य सरकार को अपने पैसे से टीका उपलब्ध कराना होगा, इसको लेकर हमलोगों ने तत्काल 1,000 करोड़ रुपये आवंटित किया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने 18 वर्ष से ऊपर वालों के लिए भी मुफ्त टीकाकरण की घोषणा कर दी. राज्य में अब तक 18 से 44 वर्ष के 38 लाख 10 हजार 826 लोगों को कोरोना के पहले डोज का टीका और 57,549 लोगों को दूसरे डोज का टीका लगाया जा चुका है. केंद्र सरकार सभी के लिए मुफ्त में टीका उपलब्ध करा रही है. हमलोगों ने तय किया है कि बिहार में 6 महीने में 6 करोड़ लोगों का टीकाकरण कराएंगे. ये काम हमलोगों को हर हाल में पूरा करना है.

कुल 1 करोड़ 16 लाख 46 हजार 119 लोगों को पहला डोज

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाढ़ प्रभावित इलाकों में भी टीकाकरण कराया जा रहा है. इन इलाकों में कोरोना जांच भी कराया जा रहा है. बिहार में प्रतिदिन 1.5 लाख कोरोना जांच का लक्ष्य निर्धारित किया गया था. 1.4 लाख जांच तक हमलोग पहुंचे हैं. राज्य में अब कोरोना संक्रमण की दर घट रही है. कोरोना से बचाव को लेकर हमलोग लगातार काम कर रहे हैं. कोरोना की तीसरी लहर आने को लेकर कई विशेषज्ञों ने आशंका व्यक्त की है. कोरोना से बचाव का एक कारगर उपाय टीकाकरण है. तीसरी लहर को लेकर लोगों को जागरूक और सतर्क रहना जरूरी है. अब तक कुल 1 करोड़ 16 लाख 46 हजार 119 लोगों को पहले डोज का टीका लगाया जा चुका है, जबकि 22 लाख 5 हजार 440 लोगों को दूसरा डोज दिया जा चुका है. कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर अस्पतालों में दवा और ऑक्सीजन का इंतजाम किया गया है.

अब तक 9 हजार 500 लोगों की मृत्यु कोरोना से

ब्लैक फंगस को लेकर भी जरूरी इंतजाम किए गए हैं, जिससे ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में कमी आ रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की जांच, इलाज और टीकाकरण को लेकर हमलोग प्रतिबद्ध हैं. बिहार में कोरोना से मृत्यु होने पर 4 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दे रहे हैं. बिहार में अब तक 9 हजार 500 लोगों की मृत्यु कोरोना से हुई है. एक गरीब राज्य होते हुए जितना संभव है लोगों की सहायता के लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.