'बिहारी डकैत' कहने पर आंध्र प्रदेश के सीएम को प्रशांत किशोर से मिला 'करारा' जवाब

News18 Bihar
Updated: March 19, 2019, 12:24 PM IST
'बिहारी डकैत' कहने पर आंध्र प्रदेश के सीएम को प्रशांत किशोर से मिला 'करारा' जवाब
फाइल फोटो

चुनावी रणनीतिकार से राजनेता बने प्रशांत किशोर फिलहाल जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं. प्रशांत किशोर खुद तो राजनीति में हैं लेकिन चुनावी प्रचार के लिए सेवा देने वाली उनकी कंपनी आईपैक इन दिनों वाईएसआर कांग्रेस का प्रचार अभियान देख रही है.

  • Share this:
आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर पर जुबानी हमला बोला है. उन्होंन 'पीके' को बिहारी डकैत बोलते हुए कहा कि 'बिहारी डकैत प्रशांत किशोर ने आंध्रप्रदेश में लाखों वोट कटवा दिए. अपने राज्य में चुनाव प्रचार के दौरान एनडीए के पूर्व सहयोगी रहे चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि 'के चंद्र शेखर राव गुंडागर्दी की राजनीति कर रहे हैं। वो कांग्रेस और टीडीपी के विधायकों को तोड़ रहे हैं। वहीं, बिहारी डकैत प्रशांत किशोर ने आंध्रप्रदेश के लाखों लोगों के वोट कटवा दिए हैं।'.


 चंद्रूबाबू नायडू के इस हमले का प्रशांत किशोर ने अपने तरीके से जवाब दिया है. पीके ने ट्वीट कर लिखा कि 'एक तयशुदा हार सबसे अनुभवी राजनेता को भी विचिलत कर सकती है। इसीलिए मैं उनके निराधार बयानों से हैरान नहीं हूं।' श्रीमान जी, अपमानजनक भाषा, जो कि बिहार के प्रति आपके पूर्वाग्रह और द्वेष को दिखाती है का प्रयोग करने की बजाए इस बात पर ध्यान दें कि लोग आपको दोबारा वोट क्यों नहीं देंगे?'

ये भी पढ़ें- गिरिराज सिंह को मिला बिहार के इस मंत्री का साथ, बोले- दिल की बात कहना गलत नहीं

 प्रशांत किशोर पर किए गए इस कटाक्ष के बाद एक बार फिर से राजनीति गरमाने की आशंका है. चुनावी रणनीतिकार से राजनेता बने प्रशांत किशोर फिलहाल जेडीयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं. प्रशांत किशोर खुद तो राजनीति में हैं लेकिन चुनावी प्रचार के लिए सेवा देने वाली उनकी कंपनी आईपैक इन दिनों वाईएसआर कांग्रेस का प्रचार अभियान देख रही है.

ये भी पढ़ें- बीजेपी नेताओं के निशाने पर गिरिराज, पूर्व MLC ने पूछा- पार्टी ने आपका आदर किया फिर ये नाटक क्यों

प्रशांत किशोर को लोकसभा चुनाव में बड़े रणनीतिकार के तौर पर देखा जा रहा है और जेडीयू को ये पूरी उम्मीद है कि पीके सभी 17 सीटों पर पार्टी को जीत दिलाएंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 19, 2019, 11:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...