बिहार: लालू-राबड़ी आवास में मारा गया नाग, JDU ने इसे बताया पाप!

राबड़ी आवास में मारा गया नाग सांप.
राबड़ी आवास में मारा गया नाग सांप.

जदयू नेता अजय आलोक (JDU leader Ajay Alok) ने कहा कि मैं इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं, लेकिन बस मन दुखी हो गया. यह किसी भी कीमत पर आज नहीं होना चाहिए था. जीव हत्या तो वैसे भी पाप है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 2:45 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री व राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ( Lalu Prasad Yadav) की पत्नी राबड़ी देवी (Rabri devi) के सरकारी आवास में नाग निकलने से दहशत फैल गई. बताया जा रहा कि करीब पांच फीट लंबा नाग देखे जाने से अफरा तफरी फैल गई और लोग इधर-उधर भागने लगे. इसे बड़ी मशक़्क़त के बाद मार दिया गया.  अब चुनावी मौसम है तो इसपर भी सियासत शुरू हो गई है. जदयू ने इसे पाप करार दिया है.

जेडीयू नेता ने इस मामले पर टिप्पणी करे हुए कहा, कार्तिक मास में लोग भगवान शंकर की पूजा करते हैं. लालू जी तो खुद भगवान शंकर के भक्त हैं. उनके सपने में आकर भगवान शंकर ने कहा था कि बकरा मत खाना और लालू जी ने छोड़ दिया था. आज के दिन भगवान शंकर के गले में लिपटे रहने वाले नाग देवता की हत्या हो गई. वह भी लालू-राबड़ी के आवास में.

अजय आलोक ने कहा कि मैं इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं, लेकिन बस मन दुखी हो गया. यह किसी भी कीमत पर आज नहीं होना चाहिए था. जीव हत्या तो वैसे भी पाप है. मौके पर वन विभाग को सूचित किया जाता तो संभवत: उस नाग की जान बच सकती थी.



बता दें कि लालू प्रसाद यादव कुछ दिनों के लिए शाकाहारी भी बने थे. इसके पीछे कहानी यह है कि 2001 में जब वह चारा घोटाला मामले में न्यायिक हिरासत में थे, तो भगवान शिव उनके सपने में आए और उन्हें शाकाहारी बनने की ‘सलाह’ दी. उन्होंने खुद ही बताया था कि भगवान की सलाह पर अमल करने के बाद वे देश के रेल मंत्री बने.
हालांकि, तथ्य यह भी है कि 2009 आम चुनाव के पहले वे अपना संकल्प तोड़ बैठे और फिर से मुर्गा-मछली उड़ाना शुरू कर दिया. उसके बाद वे हर चुनाव हारते रहे और आखिरकार 30 सितंबर 2013 को उन्हें सजा भी हो गई. अब भी वे रांची जेल में बंद हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज