लाइव टीवी

बिहार: 22 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बह रही है सर्द हवा, एक सप्ताह और पड़ेगी कड़ाके की ठंड

Sanjay Kumar | News18 Bihar
Updated: January 14, 2020, 12:00 PM IST
बिहार: 22 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बह रही है सर्द हवा, एक सप्ताह और पड़ेगी कड़ाके की ठंड
बिहार में अभी एक सप्ताह और कड़ाके की ठंड रहने के आसार

मौसम विभाग का दावा है की अभी एक सप्ताह तक मौसम में ठंड का प्रकोप रहेगा. विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को अधिकतम तापमान 18 डिग्री और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं.

  • Share this:
पटना. पूरा बिहार इन दिनों कड़ाके की ठंड (Cold Wave) की चपेट में है. पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbance) के कारण अचानक बढ़ी ठंड की वजह से सामान्य जीवन काफी हद तक प्रभावित हुआ है. दरअसल लगातार चल रही सर्द पछुआ हवाओं ने न केवल पटना (Patna) और आस पास के इलाकों के बल्कि बिहार के कई जिलों के तापमान में अंतर ला दिया है. बिहार के अधिकतर जिलों में न सिर्फ सर्द हवाएं बह रही हैं बल्कि घने कुहासे ने भी कई मुश्किलें खड़ी कर दी हैं.

सोमवार को बिहार के करीब  एक दर्जन से जिलों में सोमवार को सीवियर कोल्ड डे रहा. पछुआ हवाओं और दिन भर बादल छाये रहने की वजह से धूप लोगों को काफी परेशानी हुई. सोमवार को पटना का अधिकतम तापमान 14 डिग्री और न्यूनतम तापमान का 8.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज  किया गया.

रविवार की तुलना में सोमवार को अधिकतम तापमान में करीब डेढ़ डिग्री तो न्यूनतम तापमान में 0.2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई . गौरतलब है कि अधिकतम तापमान सामान्य से 8 डिग्री सेल्सियस कम रिकॉर्ड किया गया. मौसम विभाग की मानें तो अधिकतम और न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री का अंतर होने के साथ ही 22 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं से ठंड बढ़ी है.

मौसम विभाग का दावा है की अभी एक सप्ताह तक मौसम में ठंड का प्रकोप रहेगा. विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मंगलवार को अधिकतम तापमान 18 डिग्री और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं. बता दें कि सोमवार की सुबह घने कोहरे की वजह से 9 बजे तक विजिबिलिटी  भी 150 मीटर रही थी इस वजह से लोगों को आवागमन में  में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा.

डॉक्टरों की चेतावनी

अचानक ठंड बढ़ने से डॉक्टरों की सलाह है कि बहुत जरूरत होने पर ही लोग घरों से बाहर निकलें. खासकर बुजुर्ग और बच्चों पर विशेष तौर पर ध्यान देने की जरूरत है. बीपी शुगर के मरीज विशेष तौर पर सतर्क रहें क्योंकि इस मौसम में  दोनों में काफी उतार चढ़ाव हो सकता है.

ये भी पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 11:55 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर