Home /News /bihar /

Railway NTPC Exam Scam: पटना से आरा तक छात्रों के कब्जे में रहा रेल ट्रैक, राजधानी समेत कई ट्रेनें रद्द

Railway NTPC Exam Scam: पटना से आरा तक छात्रों के कब्जे में रहा रेल ट्रैक, राजधानी समेत कई ट्रेनें रद्द

पटना में रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन करते छात्र

पटना में रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन करते छात्र

रेलवे परीक्षा में धांधली का आरोप लगाते हुए हजारों की संख्या में छात्रों ने पटना के अलावा आरा में कई घंटों तक रेलवे ट्रैक जामकर हंगामा किया. पुलिस वालों के समझाने और तमाम कोशिशों के बाद भी छात्र हटने को तैयार नही हुए। स्थिति को देखते हुए पटना समेत आरा में वरीय अधिकारियों को समझाने स्टेशन आना पड़ा.

अधिक पढ़ें ...

पटना/आरा. रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा के पैटर्न में हुए बदलाव और एनटीपीसी की परीक्षा में हुई धांधली (NTPC Paper Scam) के विरोध में छात्रों ने सोमवार की देर रात तक बिहार में कई ट्रेनों के पहिए रोक दिए. विभिन्न मांगों को लेकर उग्र छात्रों ने पटना से लेकर आरा तक में ट्रेनों का परिचालन बाधित कर दिया. छात्रों के हंगामे और प्रदर्शन के कारण जहां कई ट्रेनों को रद्द करना पड़ा (Bihar Cancel Trains) तो विभिन्न स्टेशनों पर कई महत्वपूर्ण ट्रेनें काफी देर तक खड़ी रहीं.

हंगामे की वजह से हावड़ा दिल्ली मेल रेलखंड पर परिचालन घंटों से बाधित रहा. नाराज छात्रों को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठियां चटकानी पड़ी तो आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े. पटना डीएम चंद्रशेखर सिंह और एसएसपी राजेन्द्र नगर टर्मिनल पहुँचे और छात्रो़ं को समझाने का प्रयास किया लेकिन जब छात्र नही़ं माने तो पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. 24 जनवरी को पटना और पटना के ही राजेंद्रनगर टर्मिनल से प्रस्थान करने वाली पांच ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया गया. रद्द होने वाली ट्रेनों में 12309 राजेंद्र नगर टर्मिनल-नई दिल्ली तेजस राजधानी एक्सप्रेस, 12393 राजेंद्र नगर टर्मिनल-नई दिल्ली संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस, 13288 राजेंद्र नगर टर्मिनल-दुर्ग साउथ बिहार एक्सप्रेस, 12352 राजेंद्र नगर टर्मिनल-हावड़ा एक्सप्रेस और 13201 पटना-लोकमान्य तिलक टर्मिनल एक्सप्रेस शामिल थीं.

छात्रों ने आरोप लगाया है कि रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा में जो बदलाव किया गया है वह सही नहीं हैं. फरवरी 2019 में उन्होंने फॉर्म भरा था. इसके बाद रेलवे की तरफ से सितंबर 2019 में परीक्षा लेने की बात भी कही गई थी लेकिन तय समय पर परीक्षा नहीं  हुई. निर्धारित समय पर परीक्षा नहीं होने के बाद डिपार्टमेंट ने दिसंबर 2021 में आश्वस्त किया था कि सीबीटी की परीक्षा 23 फरवरी 2022 से शुरू होगी. छात्रों का आरोप है कि अब अचानक रेलवे ने सोमवार को नोटिस जारी करते हुए यह कहा है कि ग्रुप डी की परीक्षा एक नहीं बल्कि 2 एग्जाम के तहत लिया जाएगा.

आरा रेलवे स्टेशन पर विरोध-प्रदर्शन करते छात्र

छात्रों ने कहा कि यह फैसला छात्रों के हित में नहीं है. छात्रों ने यह भी आरोप लगाया कि एग्जाम में पहले से ही देरी हो गई है और अब ऐसे में दो परीक्षा आयोजित होने से दो-तीन साल और लग जाएंगे. प्रदर्शन करने वाले छात्रों का कहना था कि एनटीपीसी की परीक्षा दिसंबर 2020 से अप्रैल 2021 में हुई थी. बोर्ड ने कहा था कि पीटी का रिजल्ट 20 गुना ज्यादा दिया जाएगा लेकिन कोई अपने नियमों पर खरा नहीं उतरा. छात्रों ने कहा है कि ग्रुप डी के नोटिफिकेशन को वापस लिया जाए और एनटीपीसी रिजल्ट को फिर से रिवाइज किया जाए.

सोमवार की शाम पटना के साथ-साथ आरा रेलवे स्टेशन पर अभ्यर्थियों का हंगामा जारी रहा. आरा में 3 घंटे से ज्यादा छात्रों के हंगामे के बाद रैल ट्रैक खाली हुआ. इस दौरान सदर एसडीओ और आरपीएफ के आश्वासन के बाद छात्रों ने रेल ट्रैक को छोड़ा. आक्रोशित छात्रों ने आरा स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या 1 के रैल ट्रैक को जाम कर दिया था जिससे कई गाड़ियों पर इसका प्रतिकुल असर देखने को मिला.

Tags: ARA news, Bihar News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर