Home /News /bihar /

महागठबंधन में रार, कांग्रेस ने किसान आंदोलन को लेकर आरजेडी को घेरा

महागठबंधन में रार, कांग्रेस ने किसान आंदोलन को लेकर आरजेडी को घेरा

बिहार में मानव श्रृंखला के लिए राजद ने नहीं ली है अनुमति तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

बिहार में मानव श्रृंखला के लिए राजद ने नहीं ली है अनुमति तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

कांग्रेस पार्टी के कदवा विधानसभा के विधायक शकील अहमद खान ने अपने बयान में यह कहा कि बिहार में किसानों के नाम पर जो आंदोलन हो रहा है, वह अभी तक सिर्फ दिखावे जैसा ही है.

पटना. बिहार में महागठबंधन (Mahagathbandhan) की एकजुटता पर हमेशा सवाल उठते रहे हैं. कई ऐसे मौके आए हैं जब यह देखा गया कि महागठबंधन के सभी घटक दल एकजुट नहीं हैं. बात बिहार चुनाव में आपसी सामंजस्य स्थापित करने की हो या टिकट बंटवारे की, चुनाव प्रचार की हो या आज पूरे देश में चल रहे नए कृषि कानून पर किसान आंदोलन की. हर मौके पर महागठबंधन में दरार साफ दिखाई पड़ी है. किसान आंदोलन में अभी तक गायब रहे नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पर तो एनडीए के लोग सवाल उठा ही रहे हैं कि अब महागठबंधन की सहयोगी कांग्रेस पार्टी ने इशारों ही इशारों में आरजेडी और तेजस्वी यादव से सवाल पूछ दिया है.

दरअसल कांग्रेस पार्टी के कदवा विधानसभा के विधायक शकील अहमद खान ने अपने बयान में यह कहा कि बिहार में किसानों के नाम पर जो आंदोलन हो रहा है, वह अभी तक सिर्फ दिखावे जैसा ही है. हमें फिजिकली और डेमोस्टिवली हर जगह नजर आना होगा. अब टेकिनिज्म नहीं चलेगा. यदि महागठबंधन के नेता सही मायनों में आंदोलन करना चाहते हैं, तो बैठकर एक ठोस रणनीति बनानी होगी और सभी बड़े नेताओं को फिजिकली इस आंदोलन का हिस्सा बनना होगा. वक्त अब दिखावे का नहीं है.

तेजस्वी दिल्ली में रहकर किसान आंदोलन को कर रहे मजबूत : जगदानंद सिंह

कांग्रेस के आरोपों को राजद ने सिरे से खारिज कर दिया है. राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कहा कि किसानों की लड़ाई में राजद मजबूती से खड़ा है. सहयोगी दल के किसी एक नेता ने यदि कोई आरोप लगाया है तो यह बेबुनियाद है. बिहार बंद के दौरान भी महागठबंधन की एकजुटता साफ दिखाई पड़ी. महागठबंधन के सभी घटक दलों के प्रदेश अध्यक्ष भारत बंद में मजबूती से शामिल हुए. बड़ी पार्टी होने के नाते राजद अपने सभी सहयोगी दलों से मंथन करके ही फैसला लेता है. यह कोई जरूरी नहीं कि हर कार्यक्रम में तेजस्वी यादव मौजूद हों. वैसे भी किसान आंदोलन का केंद्र बिंदु दिल्ली में है और तेजस्वी यादव भी दिल्ली में रहकर आंदोलन को मजबूती प्रदान कर रहे हैं, लेकिन लोगों को यह नहीं दिख रहा है. लोग सिर्फ यह दिखाने में लगे हैं कि तेजस्वी बिहार से बाहर हैं और आंदोलन में जमीन छोड़ टेबल पर बैठते हैं.

Tags: Bihar News, Bihar rjd, Farmers Agitation, Mahagathbandhan, Tejashwi Yadav

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर