Home /News /bihar /

congress has said mahagathbandhan government will run on common minimum programme agenda nodmk8

कांग्रेस बोली- बिहार में महागठबंधन सरकार चलाने के लिए बनेगा न्यूनतम साझा कार्यक्रम

भक्त चरण दास ने कहा कि बिहार में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की बात हुई है. सभी सात पार्टियां बैठकर न्यूनतम साझा कार्यक्रम का एजेंडा तैयार करेंगी और उस पर अमल किया जाएगा

भक्त चरण दास ने कहा कि बिहार में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम की बात हुई है. सभी सात पार्टियां बैठकर न्यूनतम साझा कार्यक्रम का एजेंडा तैयार करेंगी और उस पर अमल किया जाएगा

Bihar News: बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने कहा है कि देश को बेचने वालों से देश को बचाने की जरूरत है. देश को बचाने का संदेश ही बिहार में महागठबंधन सरकार का संदेश है. उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि बिहार में न्यूनतम साझा कार्यक्रम की बात हुई है. सभी सात पार्टियां बैठकर न्यूनतम साझा कार्यक्रम का एजेंडा तैयार करेंगी और उस पर अमल किया जाएगा

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली/पटना. कांग्रेस ने कहा है कि बिहार के महागठबंधन में शामिल घटक दल न्यूनतम साझा कार्यक्रम (Common Minimum Programme) का एजेंडा तैयार करेंगे जिस पर सरकार अमल करेगी. बिहार कांग्रेस (Bihar Congress) के प्रभारी भक्त चरण दास (Bhakt Charan Das) ने बुधवार को पत्रकारों से कहा कि जब लोकतंत्र और संविधान का अपमान हो रहा था, जब संवैधानिक संस्थाओं की गरिमा को धूमिल किया जा रहा था, उस समय बिहार ने लोकतंत्र बचाने का संदेश दिया है. समान विचारधारा वाले दलों के सहयोग से महागठबंधन की सरकार (Mahagathbandhan Government) बनी और बीजेपी को सत्ता से बेदखल कर दिया गया. बीजेपी को इससे बड़ा सबक नहीं सिखाया जा सकता.

उन्होंने कहा कि देश को बेचने वालों से देश को बचाने की जरूरत है. देश को बचाने का संदेश ही बिहार में महागठबंधन सरकार का संदेश है. दास ने एक सवाल के जवाब में कहा कि बिहार में न्यूनतम साझा कार्यक्रम की बात हुई है. सभी सात पार्टियां बैठकर न्यूनतम साझा कार्यक्रम का एजेंडा तैयार करेंगी और उस पर अमल किया जाएगा.

वहीं, कांग्रेस के नेता कन्हैया कुमार ने कहा कि रोजगार बहुत बड़ा सवाल है. बीजेपी विपक्ष में गई तो रोजगार की बात शुरू हो गई है. अगर जनता चाहती है कि रोजगार, महंगाई पर बात हो तो बीजेपी को विपक्ष में बैठाइए.

बता दें कि, नीतीश कुमार ने बीजेपी पर उनकी पार्टी जेडीयू को विभाजित करने का आरोप लगाते हुए पिछले हफ्ते एनडीए से नाता तोड़ लिया था और आरजेडी के साथ जाते हुए महागठबंधन सरकार बना ली थी. उन्होंने कहा था कि जेडीयू के सभी लोग चाहते हैं कि हम बीजेपी का साथ छोड़ दें और नए सिरे से सरकार का गठन करें.

महागठबंधन सरकार को सात पार्टियों का समर्थन हासिल है जिनमें आरजेडी, जेडीयू, कांग्रेस, सीपीआई (एमएल), सीपीआई, सीपीएम और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) शामिल हैं. 243 सदस्यों वाले बिहार विधानसभा में महागठबंधन के घटक दलों के 164 सदस्य हैं. (भाषा से इनपुट)

Tags: Bihar Congress, Bihar News in hindi, Bihar politics, Kanhaiya kumar

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर