जेडीयू के भोज में पहुंचे अशोक चौधरी, भविष्य को लेकर दिया बड़ा बयान

कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्‍यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि जदयू ने चूड़ा-दही भोज में पार्टी के नेताओं को नहीं बुलाकर अपनी संर्कीण मानसिकता का परिचय दिया है. उन्होंने कहा कि इससे यह साफ हो गया है कि जदयू मौका परस्‍त है.

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 14, 2018, 5:37 PM IST
जेडीयू के भोज में पहुंचे अशोक चौधरी, भविष्य को लेकर दिया बड़ा बयान
अशोक चौधरी
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: January 14, 2018, 5:37 PM IST
बिहार में मकर संक्रांति के भोज के दौरान फिर से राजनीतिक हुई. रविवार को जदयू द्वारा आयोजित दही-चूड़ा भोज में पहुंचे प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष अशोक चौधरी ने अचानक से राजनीतिक गलियारों में नई चर्चा को जन्म दे दिया.

जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा दिये गये भोज में अशोक चौधरी के अलावा दो और चेहरे पहुंचे जो कांग्रेस में अशोक चौधरी के खास माने जाते हैं. इस दौरान चौधरी ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि राजनीति में कोई पूर्णविराम या शुरूआत नहीं होता है. दादा यानी वशिष्ठ नारायण से मेरा व्‍यक्तिगत संबंध था, इसलिए जदयू के भोज में शामिल होने आया हूं.

इस भोज में जदयू व भाजपा के नेता पांच साल बाद एक दूसरे के भोज में शामिल हुए. जदयू प्रदेश अध्‍यक्ष वशिष्‍ठ नारायण सिंह के भोज में राजद और कांग्रेस के नेताओं को नहीं देखा गया लेकिन कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्‍यक्ष अशोक चौधरी के आने की चर्चा शुरू से ही हो रही थी.

इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्‍यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि जदयू ने चूड़ा-दही भोज में पार्टी के नेताओं को नहीं बुलाकर अपनी संर्कीण मानसिकता का परिचय दिया है. उन्होंने कहा कि इससे यह साफ हो गया है कि जदयू मौका परस्‍त है.

भोज में अशोक चौधरी के जाने के बाद ये सवाल फिर से खड़े होने लगे हैं कि क्या उनका प्रेम अभी भी जदयू के लिए बना हुआ है. यह पहली बार नहीं है, जब इस तरह की कोई बात हुई हो. दूसरी ओर मकर संक्रांति से एक दिन पहले 13 जनवरी को कांग्रेस नेता सदानंद सिंह के आवास पर पार्टी नेताओं की बैठक में भी अशोक चौधरी नहीं पहुंचे थे.

चौधरी की भोज में मौजूदगी के बाद से इस तरह के कयास लगाये जा रहे हैं कि बिहार की राजनीति में एक बड़ा फेरबदल हो सकता है. अशोक के साथ कांग्रेस विधायक दिलीप चौधरी, मुन्ना तिवारी भी भोज में पहुंचे थे.

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->