होम /न्यूज /बिहार /Sadanand Singh Death: अंत समय में सोनिया व राहुल से खफा था सदानंद सिंह का परिवार! CM नीतीश ने दिया था साथ

Sadanand Singh Death: अंत समय में सोनिया व राहुल से खफा था सदानंद सिंह का परिवार! CM नीतीश ने दिया था साथ

दिवंगत सदानंद सिंह के बेटे सुभानंद मुकेश ने कांग्रेस नेतृत्व पर उपेक्षा का आरोप लगाया था.

दिवंगत सदानंद सिंह के बेटे सुभानंद मुकेश ने कांग्रेस नेतृत्व पर उपेक्षा का आरोप लगाया था.

RIP Sadanand Singh: सदानंद सिंह के पुत्र सुभानंद मुकेश के अनुसार, उन्‍होंने सोनिया व राहुल गांधी को पिता की तबीयत के बा ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    पटना. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह का निधन  (Congress Leader Sadanad Singh Passes Away) हो गया. वे पिछले कई दिनों से पटना के सगुना मोड़ स्थित क्युरिस अस्पताल में भर्ती थे. उनके निधन पर बिहार का पूरा राजनीतिक समाज मर्माहत अनुभव कर रहा है. बिहार विधानसभा के स्पीकर विजय सिन्हा, पूर्व सीएम जीतन राम मांझी, जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह, कांग्रेस सांसद अखिलेश प्रताप सिंह समेत कई नेताओं ने इसे प्रदेश की राजनीति के लिए अपूरणीय क्षति बताया है. बता दें कि सदानंद सिंह लिवर सिरोसिस (Liver Cirrhosis) की बीमारी के कारण गंभीर रूप से बीमार थे. कुछ दिनों तक दिल्ली में भी भर्ती थे, लेकिन कांग्रेस नेतृत्व (Congress Leadership)  पर उनकी अनदेखी करने का आरोप लगा था.

    सदानंद सिंह के पुत्र सुभानंद मुकेश (Shubahnand Mukesh) के अनुसार दिल्‍ली में उन्‍होंने सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) व राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को पिता की स्थिति की जानकारी दी थी, लेकिन उन्‍होंने कोई ध्‍यान नहीं दिया था. यहां विशेष बात यह है कि उन्‍हें मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की पहल के बाद दिल्‍ली के अस्‍पताल से एयरलिफ्ट कर पटना लाया गया था और पटना के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

    ये भी पढ़ें- Sadanand Singh Death: सदानंद सिंह के नाम था बिहार विधानसभा चुनाव में सर्वाधिक जीत का रिकॉर्ड, जानें सियासी सफर

    गौरतलब है कि दिल्ली से पटना लाए जाने के बाद सुभानंद मुकेश ने पिता के इलाज के दौरान दिल्ली में कांग्रेस नेतृत्‍व पर पिता की उपेक्षा करने का गंभीर आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि जब दिल्‍ली के अस्‍पताल में सदांनद सिंह की हालत गंभीर थी, तब खबर देने के बावजूद सोनिया गांधी और राहुल गांधी उन्हें देखने तक नहीं आए.

    सुभानंद मुकेश ने बताया था कि जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सदानंद सिंह की तबीयत खराब होने की जानकारी मिली, तब उन्‍होंने बराबर हाल-चाल लिया. दिल्ली में बिहार के रेजिडेंट कमिश्नर ने इलाज को लेकर मदद का भरोसा दिया. पिता को दिल्ली से पटना लाने में भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मदद की.

    ये भी पढ़ें- Bihar By Election: दो सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए टशन शुरू, नीतीश यात्रा पर तो तेजस्वी ठोक रहे ताल

    बता दें कि सदानंद सिंह कांग्रेस ही नहीं, बिहार के सबसे बुजुर्ग व बड़े नेताओं में शामिल माने जाते थे. वे बिहार विधानसभा के अध्यक्ष रहने के साथ-साथ लंबे समय तक मंत्री भी रहे थे. उन्‍होंने भागलपुर की कहलगांव विधानसभा सीट का 9 बार प्रतिनिधित्व किया था. सदानंद सिंह के पुत्र सुभानंद मुकेश ने बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में कांग्रेस के टिकट पर कहलगांव सीट पर चुनाव लड़ा था.

    दिवंगत सदानंद सिंह के पुत्र शुभानंद मुकेश ने जानकारी दी है कि उनका अंतिम संस्कार कहलगांव में होगा. सदानंद सिंह का पार्थिव शरीर विधानसभा, सदाक़त आश्रम, भूतनाथ रोड में उनके आवास पर रखे जाने के बाद कहलगांव ले जाया जाएगा.

    Tags: Bihar News, CM Nitish Kumar, PATNA NEWS, Rahul gandhi, Sonia Gandhi

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें