• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • पटना के कोरोना अस्पताल में 24 घंटे काम करेगा कंट्रोल रूम, IAS/IPS करेंगे मरीज और परिजनों की मदद

पटना के कोरोना अस्पताल में 24 घंटे काम करेगा कंट्रोल रूम, IAS/IPS करेंगे मरीज और परिजनों की मदद

हिमाचल में कोरोना वायरस के मामले. (प्रतीकात्मक तस्वीर))

हिमाचल में कोरोना वायरस के मामले. (प्रतीकात्मक तस्वीर))

पटना के प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने बताया कि कंट्रोल रूम में 24 घंटे अधिकारी मौजूद रहेंगे जो मरीजों और उनके परिजनों की विभिन्न समस्याओं का निराकरण करेंगे.

  • Share this:
पटना. पटना सिटी के अगमकुआं स्थित नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (NMCH, Patna) में भर्ती कोरोना मरीजों (Corona Patients) और उनके परिजनों को किसी प्रकार का कोई कष्ट ना हो, इसे लेकर राज्य सरकार के विशेष दिशा निर्देश पर अस्पताल परिसर में कंट्रोल रूम खोला गया है. इस कंट्रोल रूम में भारतीय प्रशासनिक सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के दो प्रशिक्षु अधिकारियों के अलावा बिहार प्रशासनिक सेवा के भी कई अधिकारियों को तैनात किया गया है, जो तीन पालियों में अपनी ड्यूटी बजाएंगे.

कमिश्नर ने डॉक्टरों के साथ की बैठक

कंट्रोल रूम की व्यवस्था को लेकर प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल और पटना प्रक्षेत्र के पुलिस महा निरीक्षक संजय सिंह ने पटना सिटी का दौरा कर एनएमसीएच पहुंचकर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य, अस्पताल के अधीक्षक, और डॉक्टरों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक की. बैठक के दौरान मरीजों के सही उपचार और अस्पताल में संसाधन बढ़ाए जाने को लेकर गंभीर चर्चा की गयी. बैठक के दौरान डॉक्टरों ने जहां वरीय आला अधिकारियों को विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया, वहीं प्रशासनिक पदाधिकारियों ने समस्याओं के निराकरण का भरोसा दिलाते हुए प्रशासन द्वारा हर संभव सहयोग किए जाने का भी भरोसा दिलाया.

24 घंटे काम करेगा कंट्रोल रूम

इस मौके पर प्रमंडलीय आयुक्त संजय अग्रवाल ने बताया कि कंट्रोल रूम में 24 घंटे अधिकारी मौजूद रहेंगे जो मरीजों और उनके परिजनों की विभिन्न समस्याओं का निराकरण करेंगे. प्रमंडलीय आयुक्त ने अस्पताल की लगातार मॉनिटरिंग किए जाने की बात दोहराते हुए अस्पताल में जल्द ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की व्यवस्था बहाल किए जाने की भी बात दोहराई. प्रमंडलीय आयुक्त ने फ्लेक्सी फंड के तहत अस्पताल को तत्काल 15 लाख उपलब्ध कराए जाने की भी बात दोहराई वहीं अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी के संबंध में पूछे जाने पर प्रमंडलीय आयुक्त ने जल्द ही अस्पताल की ऑक्सीजन पाइप लाइन व्यवस्था को दुरुस्त किए जाने का भरोसा दिलाते हुए समुचित मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराए जाने का भरोसा दिलाया.

पहले से बेहतर मिलेगा खाना

प्रमंडलीय आयुक्त ने अस्पताल में तैनात डॉक्टरों को ड्यूटी चार्ट के मुताबिक समय-समय पर वार्डों में जाकर मरीजों का उपचार किए जाने का भी निर्देश जारी किया. प्रमंडलीय आयुक्त ने अस्पताल में भर्ती मरीजों के खाने की गुणवत्ता को बढ़ाए जाने की बात दोहराते हुए प्रति मरीज 100 रुपए के जगह पर 175 रुपए निर्धारित किए जाने की भी बात कही. इस मौके पर जिलाधिकारी कुमार रवि, एसएसपी उपेंद्र शर्मा के अलावे कई अधिकारी मौजूद थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज