लाइव टीवी

Covid-19 Update: बिहार में अब तक 4 पॉजिटिव केस, जानिए क्या कह रही है सरकार
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 25, 2020, 1:09 AM IST
Covid-19 Update: बिहार में अब तक 4 पॉजिटिव केस, जानिए क्या कह रही है सरकार
प्रदेश के कई ट्रांजिट प्वाइंट पर कुल 3,73,677 यात्रियों की स्क्रीनिंग हो चुकी है. (फाइल फोटो)

अब तक बिहार में कोरोना से 4 लोगों को संक्रमित पाया गया है, जिसमें से एक की मौत हो गई.

  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए बिहार सरकार सतर्कता बरत रही है. अब तक पूरे प्रदेश में कोरोना से 4 लोगों को संक्रमित पाया गया है, जिसमें से एक की मौत हो गई. बिहार के स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को इससे संबंधित आंकड़ा जारी किया. इन आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश में अब तक कुल 194 लोगों का सैम्पल लिया गया, जिसमें 175 लोगों का रिजल्ट निगेटिव पाया गया. जानकारी दी गई है कि प्रदेश में कुल 909 यात्रियों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है. साथ ही प्रदेश के कई ट्रांजिट प्वाइंट पर कुल 3,73,677 यात्रियों की स्क्रीनिंग हो चुकी है. आंकड़ो के मुताबिक, गया और पटना एयरपोर्ट पर अब तक कुल 21422 यात्रियों की स्क्रीनिंग हुई है.

गया में कोरोना संदिग्धों के रिपोर्ट मिले निगेटिव
वहीं, गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज से कोरोना को लेकर राहत भरी खबर मिली है. यहां अब तक के आये सभी संदिग्ध के रिपोर्ट निगेटिव मिले हैं. अस्पताल के कोरोना वार्ड के नोडल पदाधिकारी डॉ एन.के पासवान ने बताया कि फरवरी से अब तक एएनएमसीएच (ANMCH) के आइसोलेशन वार्ड में कुल 36 संदिग्ध मरीजों को भर्ती किया गया है, जिसमें से कुल 23 की रिपोर्ट आरएमआरआई (RMRI) से मिल गयी है और इसमें सभी 23 रिपोर्ट निगेटिव आयी है.

संदिग्ध मरीजों को मिली छुट्टी



निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद संदिग्ध मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी जा रही है. लेकिन उन्हें स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाईडलाईन का पालन करने की हिदायत भी मिली है. अभी दो संदिग्ध मरीज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं, जिनकी जांच रिपोर्ट आरएमआरआई से आनी बाकी है.

एक डॉक्टर सहित 12 स्वास्थकर्मी घर में क्वारंटाइन
एक अन्य खबर के अनुसार, बोधगया के बीटीएमसी के ड्राइवर की मौत के बाद लिये गये सैंपल की जांच रिपोर्ट निगेटिव मिली है. जिसके बाद इस मरीज का इलाज कर रहे डॉक्टर के अन्य इमरजेंसी में इलाज करने वाले अन्य स्वास्थय कर्मियों को घर में ही क्वारंटाइन कर दिया गया है. इसके अलावा गया में स्वास्थ्य विभाग के गाईडलाईन के अऩुसार हॉस्पिटल में तैयारियां चल रही है. यहां हर तरह की OPD सेवा यहां बंद हो चुकी है. जबकि गंभीर तौर पर बीमार मरीजों का इलाज इमरजेंसी में हो रहा है. साथ ही विभागीय निर्देश पर 100 बेड का अतिरिक्त आइसोलेशन वार्ड भी बना है. बता दें, यहां 20 बेड का आइसोलेशन वार्ड पहले से काम कर रहा है.

कालाबजारी से निपटने के लिए सरकार ने लिया से फैसला
प्रदेश में हुए लॉकडाउन के बाद कालाबाजारी की समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने बड़े फैसले लिए हैं. पटना में कालाबाजारी से निपटने के लिए प्रशासन ने जरूरी कदम उठाए हैं. इसके लिए कुल 12 टीमें बनाई गई हैं, जो इस तरह की शिकायतें मिलने पर कार्रवाई करेगी. प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि आटा-मैदा सहित अन्य खाने पीने वाली अन्य वस्तुओं का उत्पादन करने वाली इकाईयों पर इस लॉकडाउन का कोई असर नहीं पड़ने दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें: Covid-19: लालू यादव को संकट के समय साथ नहीं रहने का मलाल, कही ये बात

COVID-19: मुंबई से मधुबनी के लिए बाइक पर निकला छात्र, यहां पुलिस ने लगाई ब्रेक




News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 12:49 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर