होम /न्यूज /बिहार /बिहार: चिंता का कारण बनी कोरोना संक्रमण की रफ्तार, प्रदेश में कुल 2344 मरीज

बिहार: चिंता का कारण बनी कोरोना संक्रमण की रफ्तार, प्रदेश में कुल 2344 मरीज

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी (सांकेतिक तस्वीर)

बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी (सांकेतिक तस्वीर)

Bihar News: राज्य के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ कर 2344 हो ग ...अधिक पढ़ें

पटना. कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार फिर तेज हो गई है. मंगवार की शाम पांच बजे तक बीते 24 घंटे के दौरान देश भर में कोविड 19 के 16906 नए पॉजिटिव केस मिले. इस अवधि में 45 लोगों की मौत हो गई. बिहार में भी कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी होती जा रही है. राज्य में भी एक दिन में ही 436 नए कोरोना संक्रमित मिले. इनमें सबसे अधिक पटना जिले में 192 मरीज मिले; जिनमें चार डॉक्टर भी शामिल हैं. इसके साथ ही पटना में सक्रिय मरीजों की संख्या 1312 तक पहुंच गयी है. मंगलवार को पटना एम्स में 62 वर्षीय कोरोना संक्रमित एक मरीज की मौत हो गई.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ कर 2344 हो गई है. पटना के अतिरिक्त भागलपुर में 41, खगड़िया में 22, सारण में 15, गया व पूर्णिया में 12-12, बेगुसराय में 11, बांका व मुजफ्फरपुर में 10-10, रोहतास में नौ, सीवान और औरंगाबाद में आठ-आठ नए संक्रमित पाए गए.

हालांकि, राज्य के लिए राहत की बात यही है कि अभी कोरोना संक्रमण दर सिर्फ 0.34 प्रतिशत है. लेकिन, पटना में पटना में संक्रमण दर चिंता का कारण बनता जा रहा है. अब यह आंकड़ा 2.85 प्रतिशत पहंच गया है. इसके बाद बांका और बेगुसराय में कोरोना संक्रमण दर क्रमश : 4.32 और 1.48 प्रतिशत है.

बिहार में पिछले कुछ दिनों से कोरोना का असर तेजी से बढ़ रहा है, जिससे स्वास्थ्य महकमा भी चिंतित है. कोरोना के बढ़ते खतरे का हाल ये है कि बिहार सरकार के छह मंत्री इसकी चपेट में आ चुके हैं, साथ ही कुछ और मंत्रियों की सेहत ठीक नहीं बताई जा रही है. कुछ विधायक भी इसकी चपेट में हैं.

जिन मंत्रियों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है उनमें डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद, मंत्री संजय झा, मंत्री विजेंद्र यादव, मंत्री लेसी सिंह, मंत्री जयंत राज और मंत्री विजय चौधरी शामिल हैं. सभी अपने आवास में ही होम आइसोलेशन में रह कर चिकित्सकों की निगरानी में हैं.

कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि कोरोना का मामला पिछले कुछ दिनों में तेजी से बढ़ा है. अभी बिहार में 1800 से ज्यादा मामले सामने आये हैं. बिहार में रोज 1 लाख 25 हजार से ज्यादा जांच की जा रही है. जांच करने के मामले में बिहार देश मे सबसे ऊपर है और स्वास्थ्य विभाग पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए है.

Tags: Bihar corona infection, Bihar News, PATNA NEWS

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें