AIIMS Patna : कोरोना मरीज ने तीसरी मंजिल से लगाई छलांग, मौके पर मौत
Patna News in Hindi

AIIMS Patna : कोरोना मरीज ने तीसरी मंजिल से लगाई छलांग, मौके पर मौत
डॉक्टर के मुताबिक, कोरोना पेशेंट की हालत में लगातार सुधार था.

डॉ. संजीव के मुताबिक, मरीज रोहित कुमार 2 दिन पहले एम्स आया था, उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था. उसकी हालत में लगातार सुधार देखा जा रहा था, लेकिन अचानक उसने किस वजह से खुदकुशी कर ली, ये फिलहाल कहना मुश्किल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 24, 2020, 10:39 PM IST
  • Share this:
पटना. इस वक्त की बड़ी खबर एम्स पटना (AIIMS Patna) से है, जहां 21 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव मरीज (Corona positive patients) ने अचानक तीसरी मंजिल से कूद कर खुदकुशी (Suicide) कर ली है. मरीज की मौत के बाद एम्स प्रशासन के बीच हड़कंप मच गया है. पुलिस लगातार छानबीन में जुटी हुई है. खुदकुशी करने वाले मरीज की पहचान बिहटा के रोहित कुमार के तौर पर की गई है.

दो दिन पहले दाखिल हुआ था एम्स में

एम्स के नोडल ऑफिसर डॉ संजीव की मानें, तो बिहटा का मरीज रोहित कुमार 2 दिन पहले एम्स आया था, उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था. डॉ. संजीव के मुताबिक, उसकी हालत में लगातार सुधार देखा जा रहा था, लेकिन अचानक उसने किस वजह से खुदकुशी कर ली, ये फिलहाल कहना मुश्किल है. डॉ संजीव ने यह भी कहा कि कोरोना पॉजिटिव कई ऐसे मरीज मिले हैं, जो पहले से डिप्रेशन में थे. कुछ मरीज पॉजिटिव की पुष्टि के बाद डिप्रेशन में चले जाते हैं और आत्महत्या करने वाले अधिकतर मरीज डिप्रेशन के शिकार होते हैं. गौरतलब है कि राज्य में अब तक कोरोना पॉजिटिव 5 मरीजों ने सुसाइड की है. इससे पहले भी एम्स में एक मरीज ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.



बिहार में कोरोना बना कहर
बिहार में कोरोना कहर बनकर टूट पड़ा है. आलम यह है कि हर दिन 1000 से ऊपर कोविड-19 के पॉजिटिव मरीज सामने आ रहे हैं. शुक्रवार को एक बार फिर 1820 मामले सामने आने के साथ ही राज्य में संक्रमितों संख्या बढ़कर 33511 हो गई. इनमें 1083 केस 22 जुलाई के हैं जबकि 737 केस 23 जुलाई के जो आज सिस्टम में प्रदर्शित किए गए. अगर बीते 8 जुलाई से बिहार में मिल रहे संक्रमितों का औसत निकाला जाए तो हर दिन 1200 से अधिक मरीज मिल रहे हैं. वहीं राजधानी पटना में भी स्थिति बुरी होती जा रही है. 23 जुलाई के टेस्ट किए गए आंकड़ों पर गौर करें तो इनमें सर्वाधिक पटना के 265 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. वहीं 22 जुलाई को हुई जांच रिपोर्ट के आधार पर 296 मामले सामने आए. यानी एक दिन में ही पटना में 561 कोरोना केस सामने आ गए. इसके साथ ही पटना में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5347 पहुंच गया है. 23 जुलाई की जांच रिपोर्ट के आधार पर कोरोना संक्रमितों के जिलावार आंकड़ों पर नजर डालें तो मुजफ्फरपुर में 88, भागलपुर में 56, ईस्ट चंपारण में 55, गया में 51, जहानाबाद में 33, अरवल में 20, नालंदा में 20 मरीज सामने आए. इसके अतिरिक्त खगड़िया में 17, सीतामढ़ी में 16, रोहतास में 30, बेगूसराय 13, भोजपुर में चार, दरभंगा में तीन, गोपालगंज में एक, लखीसराय में 11, मधेपुरा में 10, मधुबनी में दो, मुंगेर में चार, नवादा में दो, पूर्णिया में छह, समस्तीपुर में एक, सारण में एक, शेखपुरा में 4, शिवहर में 7, वैशाली में दो और वेस्ट चंपारण में 11 मामले सामने आए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज