होम /न्यूज /बिहार /

बिहटा स्थित ESIC हॉस्पिटल में फिर से शुरू होगा कोरोना संक्रमितों का इलाज, मेडिकल कॉलेजों में भी रिजर्व किए गए बेड 

बिहटा स्थित ESIC हॉस्पिटल में फिर से शुरू होगा कोरोना संक्रमितों का इलाज, मेडिकल कॉलेजों में भी रिजर्व किए गए बेड 

कोरोना से अब तक दुनियाभर में लाखों लोगों की मौत हो चुकी है.

कोरोना से अब तक दुनियाभर में लाखों लोगों की मौत हो चुकी है.

Bihar Corona Update : बिहार में कोरोना के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है और संक्रमितों की संख्या 3 हजार के करीब जा पहुंची है. पटना कोरोना का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बन रहा है.

पटना. बिहार में कोरोना (Bihar Corona Update) का कहर एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगा है. इसको देखते हुए शनिवार को ही राज्य सरकार ने क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक कर कई दिशा निर्देश जारी किया है जिसका अनुपालन आज से शुरू भी हो गया है. चुकी कोरोना संक्रमण (Corona Infection) का सबसे अधिक मामला राजधानी पटना (Corona Case Patna) से आ रहा है इसको देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने बिहटा स्थित कर्मचारी राज्य बीमा अस्पताल ESIC में कोरोना के संक्रमित मरीजों के इलाज की व्यवस्था फिर शुरू करने का निणर्य लिया है. इसके मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग ने केंद्र सरकार से इस अस्पताल में राज्य के कोरोना संक्रमितों के इलाज की सुविधा पुनः शुरू करने का अनुरोध किया है.

मेडिकल कॉलेजों में भी रिजर्व किए गए बेड

स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि केंद्र सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के प्रस्ताव पर सहमति भी जताई है. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि कोरोना के बढ़ते मामले को देखने के बाद इस बात का निर्णय लिया गया कि बिहटा स्थित ESIC अस्पताल में कोविड 19 से संक्रमित मरीजों का इलाज एक बार फिर से शुरू किया जाए, जिसके बाद स्वास्थ्य महकमा इस काम मे तेजी से जुट गया है. बस अब इंतजार है केंद्र से अनुमति मिलने का. जैसे ही अनुमति प्राप्त हो जाता है वैसे ही कोरोना मरीजों के इलाज की व्यवस्था बिहटा स्थित ESIC अस्पताल में शुरू कर दी जायेगी. इसके अतिरिक्त मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में भी बेड सुरक्षित रखे गए हैं.

 500 बेड का होगा कोविड अस्पताल

गौरतलब है कि बिहटा स्थित ESIC अस्पताल में कोविड मरीजों के लिये 500 बेड की व्यवस्था इस बार की गई है. बताते चलें कि इस अस्पताल को पिछले वर्ष अगस्त 2020 में कोरोना काल के दौरान संक्रमितों की संख्या बढ़ने पर कोविड अस्पताल के रूप में घोषित कर इलाज शुरू किया गया था. उस वक़्त पटना और आसपास के जिलों के गंभीर संक्रमित मरीजों का इलाज संभव हो पाया था. इस अस्पताल में अत्याधुनिक आईसीयू सहित इलाज के लिए डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों की सुविधा उपलब्ध है.

सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों को सतर्क किया गया

स्वास्थ्य विभाग ने राज्य के सभी सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों को कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सतर्क रहने और पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया है. अभी सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में कोविड वार्ड में 100-100 बेड की व्यवस्था की गई है.

Tags: Bihar News, Corona case in Bihar, Corona Update, PATNA NEWS

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर