कोविड 19: पटना के इन तीन निजी अस्पतालों में शुरू हुआ कोरोना का इलाज, देखते ही देखते फुल हो गए बेड
Patna News in Hindi

कोविड 19: पटना के इन तीन निजी अस्पतालों में शुरू हुआ कोरोना का इलाज, देखते ही देखते फुल हो गए बेड
बिहार का एक कोरोना अस्पताल

पटना जिला प्रशासन की तरफ से राजधानी के कुल 18 अस्पतालों को संक्रमितों को भर्ती करने का आदेश दिया था, हालांकि इस आदेश को मानने में कई निजी अस्पताल कोताही बरत रहे थे जिसके बाद जिलाधिकारी द्वारा शुक्रवार को पुन: सख्त आदेश जारी कर नोटिस दी गई

  • Share this:
पटना. कोरोना का इलाज कराने के लिए सरकारी अस्पतालों में इंतजार कर रहे लोगों के लिए सुकून देनेवाली खबर है. राजधानी पटना के दो बड़े निजी अस्पतालों समेत तीन अस्पतालों में शनिवार से कोरोना संक्रमितों का इलाज शुरू हो गया है. निजी अस्पतालों में इलाज की सूचना मिलते ही रूबन मेमोरियल के सभी 40 बेड देखते ही देखते फुल हो गए तो वहीं पारस मेमोरियल अस्पताल में भी 18 मरीज भर्ती हो गए.अन्य हॉस्पिटल्स में भी एक-दो दिनों में कोरोना संक्रमितों का इलाज शुरू हो जाएगा.

अस्पतालों ने जारी किया नंबर

रोगियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए रुबन मेमोरियल में 10 बेड का एक और वार्ड दो दिन में शुरू कर दिया जाएगा. बिहटा के अमहरा स्थित नेताजी सुभाष चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल में पहले दिन चार मरीज भर्ती हुए. सोमवार से रोहतास जे जमुहार स्थित नारायण मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भी इलाज शुरू हो जाएगा. पटना के सिविल सर्जन राजकिशोर चौधरी  ने बताया कि दूसरे निजी अस्पतालों को इलाज शुरू करने के लिए नोटिस जारी किया गया है. लोग पारस से 7360008351 पर और रूबन में 8873037800 मोबाइल नंबर पर कांटेक्ट कर सकते हैं.



18 अस्पतालों को संक्रमितों को भर्ती करने के आदेश
कोरोना के गंभीर रोगियों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए आइसीयू और वेंटिलेटर आदि की सुविधा मुहैया कराने के लिए पटना जिला प्रशासन की तरफ से राजधानी के कुल 18 अस्पतालों को संक्रमितों को भर्ती करने का आदेश दिया था, हालांकि इस आदेश को मानने में कई निजी अस्पताल कोताही बरत रहे थे जिसके बाद जिलाधिकारी द्वारा शुक्रवार को पुन: सख्त आदेश जारी कर नोटिस दी गई.
 
कमिश्नर ने किया निरीक्षण

प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने शनिवार को नेताजी सुभाष महाविद्यालय एवं अस्पताल में कोरोना के बेहतर इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित कराने लिए अस्पताल का निरीक्षण किया. संक्रमित मरीजों को इस अस्पताल से समन्वय स्थापित करने लिए वेबसाइट जारी करने एवं आवश्यक नंबर प्रदर्शित करने का भी निर्देश आयुक्त द्वारा दिया गया. अस्पताल में 100 बेड, 25 इंटेंसिव केयर यूनिट और 5 वेंटिलेटर सहित पर्याप्त संख्या में डॉक्टर एवं स्वास्थ्य कर्मी उपलब्ध हैं. अस्पताल में पर्याप्त संख्या में आइसीयू बेड और वेंटिलेटर है. ऑक्सीजन के साथ साथ ब्लड बैंक, एंबुलेंस की भी सुविधा है और अस्पताल 24 घंटे इमरजेंसी सेवा दे रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading