कल से पटना के IGIMS में फिर शुरु होगा कोरोना का इलाज, बनाया गया 50 बेड का ICU

पटना का आईजीआईएमएस अस्पताल (फाइल फोटो)

पटना का आईजीआईएमएस अस्पताल (फाइल फोटो)

Corona Cases In Bihar: बिहार में कोरोना के 4,157 नए मामले आए हैं जिसके साथ ही कुल एक्टिव केस की संख्या 20,148 हो गई है. इस बीच पटना में सबसे ज्यादा 1205 नए मामले आए हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार में तेजी से बढ़ते करोना (Bihar Corona Casese) केस को देखते हुए पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (IGIMS) में अब कोरोना संक्रमितों के इलाज की तैयारी की जा रही है. यहां आईसीयू (ICU) में 50 बेड तैयार किया जा रहा है जहां सिर्फ कोरोना के संक्रमितों की व्यवस्था होगी. अस्पताल के अन्य मरीजों का यहां न तो आना जाना होगा और न ही कोई रास्ता होगा. IGIMS के अधिक्षक मनीष मंडल ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि इसी 15 अप्रैल से ये 50 बेड का ICU काम करने लगेगा.

दूसरे अस्पतालों में बेड फ़ुल होने पर होगा इस्तेमाल

हालांकि IGIMS में जिस ICU के पचास बेड की व्यवस्था की गई है उसका इस्तेमाल तभी किया जाएगा जब AIIMS, PMCH और NMCH में बेड फ़ुल हो जाएंगे. PMCH में अभी 100 बेड है इसे बढ़ाने की पूरी तैयारी चल रही है, वहीं NMCH में भी 100 बेड हैं और इसे भी बढ़ाने को लेकर योजना बन रही है. पटना AIIMS में 100 बेड थे इसे 30 और बढ़ाया गया. बिहटा में भी 200 से उपर बेड तैयार कर लिए गए हैं. कंगनघाट में 200 बेड की व्यवस्था की जा रही है, ऐसे में IGIMS में 50 बेड से मरीजों को काफी राहत मिलेगी.

कोरोना के पहले लहर के दौरान यहां बंद हुआ था इलाज
इससे पहले 2020 में जब कोरोना की शुरुआत हुई थी और संक्रमण चरम पर था तब IGIMS में कोरोना का इलाज बंद कर दिया गया था. पहले संस्थान में कोरोना के मरीजों का इलाज होता था. यहां जांच के साथ संक्रमितों के इलाज के लिए पूरी व्यवस्था की गई थी लेकिन फिर सामान्य मरीजों के साथ संस्थान के अन्य विभागों में संक्रमण फैलना शुरू हो गया था जिसके बाद इलाज ही बंद कर दिया गया था और अब कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण बढ़ा तो फिर IGIMS में कोविड मरीजों के इलाज की तैयारी चल रही है और ICU में मरीजों को भर्ती करने की व्यवस्था की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज