बिहार में आज से 18 से अधिक उम्र के लोगों को लगेगा कोरोना वैक्सीन, जानें टीका लेने की प्रकिया

बिहार में आज से 18 साल से ऊपर वालों के लिए कोरोना टीका लगना शुरू होगा. फाइल फोटो)

बिहार में आज से 18 साल से ऊपर वालों के लिए कोरोना टीका लगना शुरू होगा. फाइल फोटो)

Bihar Corona Vaccination Drive: बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण का दौर चल रहा है. इससे लोगों के बचाव को लेकर सभी जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि रविवार से 18 से 44 वर्ष के लोगों के टीकाकरण की शुरुआत की जा रही

  • Share this:

पटना. बिहार में कोरोना के बढ़ रहे केस और मौत के आंकड़े के बीच आज यानी रविवार से लोगों के लिए राहत देने वाली काम की शुरुआत हो रही है. आज से बिहार में 18 साल से ज्यादा और 44 साल से कम उम्र के सभी लोगो को वैक्सीन (Corona Vaccination) लगाने की शुरुआत हो रही है. आज से 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को लगने वाला यह टीक राहत लेकर आया है. शनिवार की शाम ही बिहार में ही बिहार में वैक्सीन का 3.5 लाख वाइल पहुंच गया जिसके बाद बिहार सरकार ने आज से वैक्सीन लगाने का फैसला लिया.

खर्च होंगे 4165 करोड़ रुपए

बिहार पहंचे वैक्सीन को देर रात तक सभी जिलों तक पहुंचा दिया गया ताकि आज से वैक्सीन लगने का काम शुरू हो सके. मई महीने में बिहार के लिए 16 लाख टीका तय हुआ है जिसपर 4165 करोड़ रु खर्च होंगे. पहले 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीका 1 मई से ही लगाना शुरू होना था पर टीका उपलब्ध नही होने के कारण यह शुरू नहीं हो पाया था लेकिन आज रविवार से इसकी शुरुआत हो रही है.

बिना आधार कार्ड के भी लगेगा वैक्सीन
अब कोरोना के टीका के लिए आधार कार्ड पहचान की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है. जिसके पास आधार कार्ड अगर नहीं है वो भी टीका लगा सकता है. टीका लेने वाले को सत्यापित करने वाले पहचानकर्ता के आधार कार्ड पर वैक्सीन दिया जा सकेगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी डीएम को गाइडलाईंन जारी करते हुए बताया कि ऐसे लोगों के टीका के लिए विशेष सत्र आयोजित होंगे और इसकी पहचान की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी.

स्कूल कॉलेजो में लगेंगे वैक्सीन के लिये कैम्प

आज से शुरू हो रहे टीकाकरण को लेकर सीएम नीतीश कुमार ने कई दिशा-निर्देश जारी किए हैं. सीएम नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों के साथ समीक्षा कर निर्देश जारी करते हुए बताया कि टीका के लिए केंद्र पहुंचने वाले लोग सुरक्षित रहें, इसका ख्याल रखना है. पहले अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण हो रहे थे अब स्कूल और कॉलेजों में भी हो ताकि लोग इसके संक्रमण से बच सकें.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज