लाइव टीवी

विदेशों से बिहार लौटे यात्रियों की हुई पहचान, RMRI में 29 मार्च से शुरू होगी इनकी जांच
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 28, 2020, 8:53 PM IST
विदेशों से बिहार लौटे यात्रियों की हुई पहचान, RMRI में 29 मार्च से शुरू होगी इनकी जांच
अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने कहा कि निर्धारित मानदंडों के अनुसार सक्षम अधिकारी द्वारा पास जारी किया गया था या नहीं, इसकी जांच के लिए सामान्य प्रशासन ने आदेश जारी किया है. (फाइल फोटो)

बिहार सरकार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा है कि हाल के दिनों में जो भी विदेशों से बिहार लौटे हैं, उन सबकी मेडिकल जांच कराई जाएगी.

  • Share this:
पटना. कोरोना से बचाव के लिए केंद्र और राज्य की सरकारें कई कदम उठा रहे हैं. ऐसे में बिहार सरकार ने विदेशी यात्रियों को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है. हाल के दिनों में विदेशों से बिहार लौटे सभी यात्रियों की सरकार ने पहचान कर अब मेडिकल जांच कराने की तैयारी कर रही है.

मुख्य सचिव बोले- विदेशों से बिहार लौटे यात्रियों की होगी मेडिकल जांच
बिहार सरकार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा है कि हाल के दिनों में जो भी विदेशों से बिहार लौटे हैं, उन सबकी मेडिकल जांच कराई जाएगी. यही नहीं मुख्य सचिव ने यह भी कहा कि सरकार के पास इस बात की पूरी जानकारी है कि पिछले कुछ दिनों में कितने लोग विदेशों से बिहार आए हैं और उन सभी की पहचान भी हो गई है. दीपक कुमार ने कहा कि पटना के राजेंद्र मेडिकल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट (RMRI) में 29 मार्च से इन सभी की मेडिकल जांच होगी और इन लोगों को तत्काल कोरोंटाइन में रखा गया है.

हालांकि मुख्य सचिव ने इस बात की जानकारी नहीं दी कि हाल के दिनों में विदेशों से अब तक कितने लोग बिहार लौटे हैं. गौरतलब है कि कतर से बिहार लौटे सैफ अली भी इन विदेशी यात्रियों में से एक था जिसकी 20 मार्च को कोरोना से मौत हो गई थी. सैफ अली के संपर्क में आने की वजह से अब तक चार लोगों में कोरोना का पॉजीटिव लक्षण पाया गया है.



बर्ड फ्लू से बिहार वासियो को नहीं है कोई खतरा


कोरोना के खतरे के बीच बर्ड फ्लू की आहट ने लोगों को परेशान कर दिया है. ऐसे में बिहार सरकार की तरफ से लोगों के लिए एक अच्छा मैसेज है. पशुपालन विभाग के सचिव एन सरवन ने कहा है कि लोगों को बर्ड फ्लू से बिल्कुल भी डरने की जरूरत नहीं है और ना ही चिकेन-अंडा और मांस-मछली से कोई परहेज ही करना है. पशुपालन विभाग के सचिव ने राज्य के लोगों को यह आश्वस्त किया कि बर्ड फ्लू से किसी को भी कोई खतरा नही है. एन सरवन ने बताया कि पटना के पीसी कॉलोनी और नालंदा के कतरीसराय में बर्ड फ्लू को लेकर जो मामले आए थे, उसका ना सिर्फ निपटारा कर दिया गया है बल्कि इन्फेक्टेड मुर्गियों को खत्म भी कर दिया गया है. पशुपालन विभाग के सचिव ने ये भी बताया कि अब बिहार के सभी चिकेन-अंडे और मांस-मछली की दुकानें खुली रहेंगी.

लॉकडाउन में किसानों की मदद के लिए सरकार ने लिए अहम फैसले
कोरोना और लॉकडाउन के बीच किसानों को मदद पहुंचाने के लिए बिहार सरकार ने एक अहम फैसला लिया है. कृषि विभाग ने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों से अपील की है कि किसानों को मजदूरों की हो रही किल्लत को लेकर वो पंजाब और दिल्ली में फंसे हुए मजदूरों को बिहार लाने का कोई उपाय करें. गाड़ियों के ट्रांसपोर्ट परमिट दे ताकि बिहार के बाहर फंसे मजदूरों को बिहार लाया जा सके ताकि बिहार में गेहूं की कटाई में मजदूरों का इस्तेमाल किया जा सके नहीं तो बिहार के किसानों को बड़ा नुकसान होगा. इसके साथ ही कोरोना से बचने के लिए किसानों को निर्देश देते कृषि सचिव ने कहा कि हमारे बिहार के किसान खेतों में काम करते वक्त साफ-सफाई और साबुन या सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें साथ ही हार्बहेस्टिंग मशीन को साफ-सुथरा भी रखें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 28, 2020, 8:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading