Home /News /bihar /

Bihar Corona Update: बिहार में कोरोना के 112 Active केस बचे, 24 घंटे में मिले 11 नए मरीज

Bihar Corona Update: बिहार में कोरोना के 112 Active केस बचे, 24 घंटे में मिले 11 नए मरीज

बिहार में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या फिलहाल 100 से अधिक है (फाइल फोटो)

बिहार में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या फिलहाल 100 से अधिक है (फाइल फोटो)

Corona Update In Bihar: राज्य में कोरोना की तीसरी संभावित लहर के खतरे के बीज 30 अगस्त तक कोरोना के मात्र 112 एक्टिव मरीज बचे हैं. सबसे ज्यादा 19 एक्टिव केस पटना में हैं, जबकि पिछले 24 घंटे में बिहार से कोरोना के 11 नए मरीज सामने आए हैं.

अधिक पढ़ें ...

पटना. पूरे देश में कोरोना की तीसरी लहर का खतरा भले ही मंडरा रहा हो, लेकिन बिहार में कोरोना (Bihar Corona Cases) को लेकर हालात फिलहाल काफी सुखद और संतोषजनक हैं. कोरोना काल मे सबसे अधिक मरीजों का दवाब झेल रहे पटना एम्स (Patna AIIMS) को लंबे समय बाद बड़ी राहत मिली है. पटना में एम्स में अब एक भी कोरोना के मरीज इलाजरत नहीं हैं. अस्पताल में भर्ती एक मात्र मरीज अनु केडिया को अस्पताल से डिस्चार्ज किये जाने के बाद सभी 300 बेड खाली हो गए हैं और मरीजों की संख्या शून्य हो गई है.

दूसरी तरफ पटना के आईजीआइएमएस, पीएमसीएच समेत दूसरे निजी अस्पतालों में भी कोरोना मरीजों की संख्या नहीं के बराबर बची है और संक्रमण के कमी आने के बाद इन सभी अस्पतालों में भी नए मरीज भर्ती होने नहीं आ रहे हैं. फिलहाल हालात सामान्य दिख रहे हैं, क्योंकि राज्य में 30 अगस्त मात्र 112 एक्टिव मरीज बचे हैं, जिसमें सबसे ज्यादा 19 एक्टिव केस पटना में बचे हैं. पूरे बिहार में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 11 मरीज ही सामने आए हैं.

केरल समेत अन्य राज्यों से आने वालों की जांच
स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर फिर से केरल, तमिलनाडु समेत कई राज्यों से आनेवाले लोगों के लिए एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशनों पर कोरोना जांच के लिए मेडिकल टीमों की तैनाती कर दी गयी है ताकि संक्रमित की पहचान हो सके और नए लोगों को संक्रमण से बचाया जा सके.

हालात सामान्य होने से कोविड अस्पतालों को बड़ी राहत
पटना एम्स के लैब पर भी अब दबाव पूरी तरह से कम हो गया है. 29 अगस्त को जहां एम्स में जांच कराने के बाद सभी 4482 सैम्पल की रिपोर्ट निगेटिव आई है, वहीं 30 अगस्त को 1 मरीज की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. एम्स पूरी तरह से कोविड डेडिकेटेड अस्पताल होने की वजह से शुरू से दवाब झेल रहा था और मरीजों को हाइटेक और बेहतर सुविधा भी रास आ रही थी. दूसरी लहर में भी अप्रैल से जून तक एम्स में भर्ती होने के लिए कई दिनों तक चक्कर लगाना पड़ रहा था और मरीजों के लिए एक भी बेड खाली नहीं थे, लेकिन अब स्थिति सामान्य होने के बाद सबसे बड़े कोविड अस्पतालों को बड़ी राहत मिली है.

Tags: Bihar corona infection, Bihar Corona Update, Corona Active Case

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर