लाइव टीवी

COVID-19: बिहार में प्रशासन की चूक से बढ़ रहे Corona Positive के मामले
Patna News in Hindi

Sanjay Kumar | News18 Bihar
Updated: April 4, 2020, 9:01 AM IST
COVID-19: बिहार में प्रशासन की चूक से बढ़ रहे Corona Positive के मामले
पटना एयरपोर्ट पर पहले 12 दिनों तक यात्रियों की स्क्रीनिंग में कोताही बरती गई. (File Photo)

पटना एयरपोर्ट पर विदेश से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग करने के लिए डॉक्टरों की टीम 3 मार्च से तैनात थी पर 15 मार्च तक केवल 27 लोगो की ही स्कैनिंग की गई.

  • Share this:
पटना. कोरोना वायरस (Coronavirus) के भारत में दस्तक दे देने के बाद भी पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) पर विदेशों से आने वाले लोगों के सैंपल लेने और उन्हें आइसोलेट (Isolate) करने में प्रशासन ने बड़ी चूक कर दी. विदेशों से आए लोगों का एयरपोर्ट पर सैंपल लेने के बाद राजधानी में ही आइसाेलेट कर दिया जाता तो यह यह नौबत नहीं आती. बिहार में पॉजिटिव केस के मामलों में संभव है कि बढ़ोतरी दर्ज नहीं की जाती. कोरोना का चेन तोड़ने में कामयाबी मिल पाती है और इसका प्रसार न्यूनतम स्तर पर हो पाता. हालांकि बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार की मानें तो उनका कहना है कि विदेशों से और दूसरे राज्यों से बिहार आए सभी लोगों की जिस तरह से जांच की जानी चाहिए, की गई. उसमें कोई कोताही नहीं बरती गई है.

एयपोर्ट पर 12 दिनों में सिर्फ 27 लोगों की हुई स्कैनिंग

पटना एयरपोर्ट पर विदेश से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग करने के लिए डॉक्टरों की टीम 3 मार्च से तैनात थी पर 15 मार्च तक केवल 27 लोगो की ही स्कैनिंग की जा सकी. कोरोना ने जब देश में तेजी से पांव पसारना शुरू कर दिया तब बिहार सरकार द्वारा मुख्य सचिव की अध्यक्षता मे गठित क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की नींद खुली. 15 मार्च को प्रशासनिक और स्वास्थ्य की टीम पटना एयरपोर्ट पर गई.



16 मार्च से सबों की स्कैनिंग का फैसला



एयरपोर्ट से लेकर एयरलाइंस अधिकारियों के साथ बैठक कर फैसला लिया कि 16 मार्च से जो भी लोग विदेश से पटना आएंगे उन सबों की स्कैनिंग की जाएगी. इसके साथ ही उन्हें क्वारंटाइन पर रहने को कहा जाएगा. इसी वजह से 16 मार्च से लॉकडाउन लागू होने तक यानी 24 मार्च की रात बारह बजे तक करीब 1100 लोगों की स्कैनिंग हुई, लेकिन किसी का सैंपल नहीं लिया गया. हाल के दिनों में स्वास्थ्य विभाग ने भी यह फैसला लिया कि जो भी विदेश से आए हैं, उन सभी का सैंपल लिया जाएगा.

पटना एयरपोर्ट उतरने के बाद सभी के सैंपल ले लिए जाते और उन्हें रिपोर्ट आने तक पटना में ही रोक लिया जाता तो संभव है कि पॉजिटिव केस की संख्या में बढ़ोतरी नहीं दर्ज की जाती है. वहीं यह भी सही है कि इस वायरस के लक्षण 5 वें दिन से 14 दिन में प्रकट होते हैं. बिहार में पॉजिटिव मामले 22 मार्च से मिलने शुरू हुए और वह इस बात पर मुहर लगाते हैं कि बाहर से राज्य में आए लोगों के सैंपल नहीं लिए गए और संदिग्ध लोगों को आइसोलेशन पर नहीं रखा गया.

पॉजिटिव के 30 में से 29 मामलों की है ट्रेवल​ हिस्ट्री

बिहार में 22 मार्च से 2 अप्रैल तक 30 पॉजिटिव मामले आए हैं. इनमें से पटना सिटी के युवक को छोड़कर सभी मरीजों की ट्रेवल हिस्ट्री विदेश की है. पटना सिटी का युवक गुजरात से आया था. वह ठीक हो चुका है.

कतर से लौटे थे मुंगेर के सैफ अली

मुंगेर के सैफ अली के चेन को ही देख लें तो वह कतर से दिल्ली होते हुए पटना एयरपोर्ट पर उतरा और 12 मार्च को घर पहुंचा. आने के तीन-चार बाद से वह मुंगेर के एक अस्पताल में भर्ती हुआ. फिर 21 मार्च को उसकी पटना के एम्स में मौत हो गई. अगले दिन 22 मार्च को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई. इस युवक ने अपने संपर्क में आए 13 लोगों को संक्रमण दिया और उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

स्कॉटलैंड से लौटा था राहुल

फुलवारीशरीफ का युवक राहुल स्कॉटलैंड में रहता था. वह स्कॉटलैंड से 19 मार्च को पटना एयरपोर्ट पहुंचा. 20 मार्च को वह एम्स गया. इसके बाद 21 मार्च को फिर उसे एनएमसीएच ले जाया गया. उसके दो दिन बाद उसकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आ गई. इसका चेन खत्म हो गया पर गांव के तीन किलोमीटर तक डब्लूएचओ को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

दुबई से कोरोना लेकर आई थी गया की महिला

गया की महिला दुबई से 22 मार्च को पटना होते हुए पति के साथ घर पहुंची. वह भी दुबई से ही ही से काेरोना से संक्रमित होकर पहुंची. जब उसका सैंपल गया में लिया गया तो वह पॉजिटिव निकला.

विदेश से लौटे लोगों की रिपोर्ट अभी आनी बाकी

24 मार्च तक पटना एयरपोर्ट आने वालों का पॉजिटिव केस में अभी और बढ़ोतरी होने की संभावना जताई जा रही है. 24 मार्च की रात बारह बजे से विमान के परिचालन पर रोक लगा दी थी. 24 तक विदेश से आए लोगों का सैंपल टेस्ट का रिजल्ट अप्रैल के पहले सप्ताह तक आने की संभावना है.

ये भी पढ़ें: Coronavirus से लड़ाई के लिए पटना में तैयार खड़े हैं भारतीय रेलवे के आइसोशलेशन कोच

Lockdown UPDATE: दर्ज हुई 542 FIR, 11 दिनों में वसूले एक करोड़ 63 लाख

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 4, 2020, 9:00 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading