Covid-19: दुकान बंद कराने पहुंची पटना पुलिस पर हमला, एक पुलिसकर्मी जख्मी

डंडे से किए गए वार में उनके सिर में चोटे आई हैं. ( सांकेतिक फोटो)

डंडे से किए गए वार में उनके सिर में चोटे आई हैं. ( सांकेतिक फोटो)

सुल्तानगंज थाना (Sultanganj Police Station) के सहायक अवर निरीक्षक दिनेश सिंह ने बताया कि घायल हवलदार का नाम उदय शंकर चौधरी है. डंडे से किए गए वार में उनके सिर में चोटें आई हैं.

  • Share this:
पटना. बिहार में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण (Corona virus infection) से निपटने के लिए शाम 4 बजे दुकान बंद किए जाने के सरकारी आदेश के अनुपालन में लगी पुलिस टीम पर हमला किया गया है. पटना शहर के सुल्तानगंज थाना अंतर्गत शाहगंज मोहल्ले में बृहस्पतिवार को हमला किया गया, जिसमें एक अवर निरीक्षक जख्मी हो गए. सुल्तानगंज थाना (Sultanganj Police Station) के सहायक अवर निरीक्षक दिनेश सिंह ने बताया कि घायल हवलदार का नाम उदय शंकर चौधरी है. डंडे से किए गए वार में उनके सिर में चोटें आई हैं.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस टीम द्वारा दुकान बंद कराए जाने के दौरान मास्क न पहने पर एक युवक को उदय शंकर चौधरी द्वारा मास्क पहनने की ताकीद की. आरोप है कि इस पर युवक उनसे उलझ पड़ा और इसी क्रम में अपने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर चौधरी पर डंडे से हमला कर दिया. सिंह ने बताया कि इस मामले में चार नामजद और 15 अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

अपराह्न चार बजे से ही बन्द होंगी

बिहार में बढते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बुधवार को संपन्न आपदा प्रबंधन समूह की बैठक के बाद गृह विभाग द्वारा जारी एक आदेश में कहा गया था कि 29 अप्रैल से सारी दुकानें शाम 6 बजे की बजाय अपराह्न 4 बजे से ही बंद होंगी. बता दें कि बिहार में रोज कोरोना वायरस के हजारों मामले सामने आ रहे हैं. वहीं, कई मरीजों की मौत भी हो रही है. हालांकि, सरकार और कोरोना वॉरियर्स कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए मिलकर दिन-रात काम कर रहे हैं. यही वजह है कि राज्य सरकार ने शाम 6 बजे के बजाए 4 बजे से कर्फ्यू लागू कर दिया है, ताकि करोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज