• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • PATNA COVID 19 RESIDENT DOCTORS OF PATNA AIIMS WARN OF STRIKE SAID 20 BEDS SHOULD BE RESERVED FOR US NODBK

Covid-19: पटना AIIMS के रेजिडेंट डॉक्टरों ने दी हड़ताल की चेतावनी, कहा- हम लोगों के लिए 20 बेड हो रिजर्व

यही वजह है कि डॉक्टरों की अपने स्वास्थ्य को लेकर चिंता सता रही है.

उन लोगों का कहना है कि कोविड पॉजिटिव (Covid positive) हुए डॉक्टरों के लिए 20 बेड रिजर्व हो. रेजिडेंट डॉक्टरों का कहना है कि रेजिडेंट डॉक्टरों को संक्रमित होने पर बेड नहीं मिल रहा है.

  • Share this:
    पटना. बिहार की राजधानी पटना में एक बड़ी खबर सामने आई है. कहा जा रहा है कि पटना एम्स (Patna AIIMS) के रेजिडेंट डॉक्टरों ने हड़ताल की चेतावनी दी है. रेजिडेंट डॉक्टरों ने खुद के लिए बेड रिजर्व करने की मांग की है. उन लोगों का कहना है कि कोविड पॉजिटिव (Covid positive) हुए डॉक्टरों के लिए 20 बेड रिजर्व हो. रेजिडेंट डॉक्टरों का कहना है कि रेजिडेंट डॉक्टरों को संक्रमित होने पर बेड नहीं मिल रहा है. कोविड ड्यूटी (Covid Duty) के बाद 8 दिनों तक ऑफ देने की भी मांग की है.  रेजिडेंट डॉक्टरों का कहना है कि मांगें पूरी नहीं होने पर 24 मई से सभी हड़ताल पर जाएंगे.

    दरअसल, बिहार में डॉक्टर्स भी कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं. दो दिन पहले खबर सामने आई थी कि बिहार में कोरोना वायरस से 78 डॉक्टरों की अब तक मौत हो चुकी हैं. यही वजह है कि डॉक्टरों की अपने स्वास्थ्य को लेकर चिंता सता रही है.



    शेखपुरा एवं सीतामढ़ी के एक-एक मरीज शामिल हैं
    वहीं, 18 मई को खबर सामने आई थी कि बिहार में कोरोना वायरस के चलते फैले संक्रमण के कारण पिछले 24 घंटे के दौरान 96 और मरीजों की मौत हो गई. इन्हें मिलाकर सोमवार तक राज्य में महामारी से 3,928 लोगों की जान जा चुकी है. वहीं, इस अवधि में 5920 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि होने के साथ राज्य में कुल मामलों की संख्या बढकर 6,57,829 हो गई. स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से जिन 96 मरीजों की मौत हुई उनमें पटना के 20, बेगूसराय के 11, लखीसराय एवं सारण में चार-चार, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, नालंदा, पश्चिम चंपारण, सिवान एवं सुपौल में तीन-तीन, अररिया, भागलपुर, भोजपुर, बक्सर, जमुई, कैमूर, मधुबनी, मुंगेर, रोहतास एवं वैशाली के दो-दो, बांका, गया, जहानाबाद, किशनगंज, मधेपुरा, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, शेखपुरा एवं सीतामढ़ी के एक-एक मरीज शामिल हैं.
    Published by:Bankatesh Kumar
    First published: